किम जोंग ने हाथ जोड़कर ट्रंप से वार्ता की भीख मांगी थी : अमेरिका

0
115

उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग-उन और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच सिंगापुर में शिखर वार्ता की तैयारियों के बीच ट्रंप प्रशासन के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा है कि किम ने इस वार्ता के लिए हाथ जोड़कर भीख मांगी थी।‘वॉल स्ट्रीट जर्नल’ के अनुसार, ट्रंप के अटॉर्नी रूडी गियूलियानी ने तेल अवीव निवेश सम्मेलन में कहा, किम ने राष्ट्रपति ट्रंप के साथ शिखर वार्ता के लिए घुटनों के बल बैठकर और हाथ जोड़ कर भीख मांगी थी।रूडी ने कहा, उन्होंने कहा कि वह हमारे साथ परमाणु युद्ध करने जा रहे हैं और परमाणु युद्ध में वह हमें हरा देंगे। हमने कहा कि उस तरह के हालात में हम मुलाकात नहीं करेंगे। इस पर किम ने हाथ जोड़कर घुटनों के बल बैठ गए और वार्ता की भीख मांगी।अमेरिकी राष्ट्रपति के अटॉर्नी ने कहा, यह ठीक वही स्थिति थी जिसमें हम उत्तर कोरियाई शासक को देखना चाहते हैं। उन्होंने कहा, ट्रंप-किम शिख वार्ता के पुनर्निधारण से अमेरिका की स्थिति मजबूत हुई है।सिंगापुर ने गुरुवार को कहा कि 12 जून को तय ट्रंप-किम शिखर वार्ता की सभी तैयारियां सुनियोजित तरीके से जारी हैं। यह ऐतिहासिक वार्ता पर्यटक रिजॉर्ट सेंतोसा में होगी, जिसे दुनियाभर के 2,500 से अधिक पत्रकारों द्वारा कवर किए जाने की उम्मीद है। सिंगापुर के विदेश मंत्री विवियन बालाकृष्णन के हवाले से स्थानीय मीडिया रिपोर्टों में कहा गया, बैठक के लिए सभी तैयारियां और राजनयिक प्रबंध सुनियोजित तरीके से किए जा रहे हैं।बालाकृष्णन ने भरोसा दिया कि सिंगापुर ट्रंप-किम वार्ता की मेजबानी करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा, सिंगापुर के नागरिकों को इस बात के लिए गर्व हो सकता है कि इस वार्ता के लिए हमें चुना गया है, क्योंकि वे जानते है कि हम तटस्थ, विश्वसनीय और सुरक्षित हैं। विश्व शांति के लिए हम अपनी ओर से प्रयास करेंगे।बालाकृष्णन ने उम्मीद जताई कि ट्रंप-किम वार्ता से सकारात्मक परिणाम निकलेंगे। हालांकि उन्होंने आगाह भी किया कि महज एक बैठक से कोरियाई प्रायद्वीप के सभी मसले हल नहीं हो जाएंगे। इस वार्ता के मद्देनजर उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री रि योंग हो के आमंत्रण पर बालाकृष्णन गुरुवार को प्योंगयोंग गए। इससे पहले बीते मंगलवार को उन्होंने वाशिंगटन की यात्रा की थी। तब उन्होंने कहा था, हमने इसके लिए आगे बढ़कर पहल नहीं की थी, हमसे कहा गया था। इस मामले में उत्तर कोरिया और अमेरिका दोनों को लगता है कि सिंगापुर इस ऐतिहासिक वार्ता के लिए उपयुक्त स्थल है।अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग-उन की 12 जून को सिंगापुर में होने वाली शिखर वार्ता के दौरान किम के जैसा दिखने वाला एक अन्य व्यक्ति भी सिंगापुर में नजर आएगा। किम जैसा दिखने और उनकी जैसी वेशभूषा वाले हांगकांग के हावर्ड एक्स ट्रंप-किम की वार्ता के समय एक वैकल्पिक सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। हाल के महीने में हावर्ड प्योंगचांग विंटर ओलंपिक में ट्रंप जैसे दिखने वाले एक अन्य व्यक्ति के साथ दिखे थे। वहां उन्होंने उत्तर कोरिया की महिला चीयरलीडर टीम के साथ नृत्य किया था और एकीकृत कोरिया का झंडा लहराया था।हावर्ड ने आसन्न मंगलवार के अपने कार्यक्रम के सिलसिले में कहा, सिंगापुर के एक होटल ने इस ऐतिहासिक भेंट पर अपना कुछ खास पेश करने के लिए हमारी सेवा ली है। उन्होंने कहा, मेरा लक्ष्य व्यंग्य के माध्यम से राजनीति की चर्चा करने के लिए लोगों को प्रोत्साहित करना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here