पाकिस्तान ने 2018 में 1000 से ज्यादा बार संघर्षविराम उल्लंघन किया

0
36

विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को बताया कि पाकिस्तान ने 2018 में भारत व पाकिस्तान के बीच 2003 के संघर्षविराम समझौते का 1,000 से ज्यादा बार उल्लंघन किया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, हम पाकिस्तान की तरफ से अकारण संघर्षविराम उल्लंघन को बहुत गंभीरता से लेते हैं, क्योंकि इसमें जीवन व संपत्ति की हानि होती है।पाकिस्तान द्वारा संघर्षविराम का उल्लंघन भारतीय क्षेत्र में आतंकवादियों के घुसपैठ के लिए करने की बात कहते हुए उन्होंने कहा, हम इस तरह की घुसपैठ का अतीत में परिणाम देख चुके हैं। हम उम्मीद करते हैं कि पाकिस्तान को यह अहसास होगा कि वह क्या कर रहा है और वह दोनों देशों के बीच 2003 के संघर्षविराम समझौते का पालन करे।भारत ने रमजान के महीने में जम्मू एवं कश्मीर में संघर्षविराम और सीमा पर युद्धबंदी का ऐलान किया हुआ है लेकिन इस अवधि के दौरान पाकिस्तान की तरफ से अकारण संघर्षविराम का उल्लंघन जारी रहा।केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज कहा कि केंद्र ने जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों की ताकत बढ़ाने एवं राज्य के युवकों के वास्ते रोजगार के नये अवसर सृजित करने के लिए कई कदम उठाए हैं। मंत्री सुरक्षा स्थिति की समीक्षा के लिए जम्मू कश्मीर के दो दिवसीय दौरे पर हैं। जम्मू कश्मीर में पुलिस के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए उठाये गये कदमों का ब्योरो देते हुए केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा कि 174 करोड़ रुपये थानों की बहाली के लिए दिये गये, 500 करोड़ रुपये अत्याधुनिक हथियारों के लिए दिये गये। उन्होंने कहा कि केंद्र ने 25,474 विशेष पुलिस अधिकारियों का मासिक मानदेय 3000 रुपये से बढ़ाकर 6000 रुपये कर दिया। सिंह ने कहा कि जम्मू कश्मीर के युवाओं के लिए रोजगार के नये अवसर सृजित करने के लिए हमने राज्य सरकार के साथ मिलकर सभी प्रयास किये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here