विजय माल्या के प्रत्यर्पण के लिए हमने ब्रिटेन अदालत में कोई कसर नहीं छोड़ी : विदेश मंत्रालय

0
180

सरकार ने कहा कि उसने ब्रिटेन की अदालत को यह विश्वास दिलाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी कि भगोड़े उद्योगपति विजय माल्या को सभारत को प्रत्यर्पित किया जाना चाहिए। यह बात आज विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कही। कुमार ने एक सवाल पर संवाददाताओं से कहा कि प्रत्यर्पण को लेकर सुनवायी चल रही है। मैं समझता हूं कि मामले में अंतिम दलीलें पूरी हो चुकी हैं। अब हमें फैसले का इंतजार है। मैं आपको भरोसा दिला सकता हूं कि हमने अदालत को यह विश्वास दिलाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है कि विजय माल्या को भारत को प्रत्यर्पित किया जाना चाहिए।पंजाब नेशनल बैंक से कथित रूप से करोड़ों रूपये की धोखाधड़ी करने वाले भगोड़े उद्योगपति नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के वर्तमान ठिकानों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि विदेश मंत्रालय उनके ठिकानों के बारे में जानकारी नहीं मुहैया करा सकता क्योंकि इसकी जानकारी तभी होगी जब संबंधित एजेंसियां उनके स्थान के बारे में सूचित करें। यह पूछे जाने पर कि क्या इस्लामी प्रचारक जाकिर नाइक के प्रत्यर्पण का मुद्दा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके मलेशियाई समकक्ष महातिर मोहम्मद के बीच हुई बातचीत के दौरान उठा, कुमार ने कहा कि दोनों नेताओं के बीच बातचीत बहुत अल्प अवधि के लिए हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.