खुला ऑफरः तेजस्वी ने महागठबंधन में आने का दिया प्रस्ताव, कुशवाहा बोले- मैं एनडीए के साथ, कोई नाराजगी नहीं

0
87

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने एनडीए में सीटों को लेकर बयानबाजी के बीच रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा को महागठबंधन में शामिल होने का खुला ऑफर दिया है।तेजस्वी ने शुक्रवार को नई दिल्ली से लौटने के बाद मीडिया से बातचीत में कहा कि उपेंद्र कुशवाहा आना चाहते हैं तो महागठबंधन में विचार किया जाएगा। महागठबंधन में कोई बड़ा -छोटा नहीं, सभी भाई-भाई हैं। उपेंद्र कुशवाहा मन बनाएं, बात करें, उसके बाद ही कुछ होगा।यादव ने कहा कि नीतीश कुमार सीनियर हो सकते हैं, लेकिन वोट बैंक कुशवाहा के पास ज्यादा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री एनडीए में रहेंगे तो हमें फायदा होगा। उपेंद्र कुशवाहा के लिए एनडीए में जगह नहीं है। वे भाजपा की विचारधारा के खिलाफ राजनीति करते हैं। एनडीए में जदयू व लोजपा सीटों के लिए दबाव बना रहे हैं, लेकिन कुछ फायदा नहीं होने वाला।यादव ने प्रधानमंत्री की जान पर खतरा से जुड़े सवाल पर कहा कि सुरक्षा एजेंसी पूरे मामले की जांच करे। पीएम की सुरक्षा बेहद जरूरी है। पीएम हों या आम आदमी सभी की सुरक्षा को गंभीरता से ली जाए। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के संबंध में कहा कि न्यूनतम साझा कार्यक्रम बनाने व गठबंधन को मजबूत करने को लेकर उनसे चर्चा हुई।तेजस्वी प्रसाद यादव ने आरोप लगाया है कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन उत्पीड़न मामले में राज्य सरकार चुप्पी साधे हुए है। ट्वीट कर पूछा है कि आखिर वह इस मामले में कुछ बोल क्यों नहीं रही है। इसका खुलासा करने से किसको डर है, सरकार को इसे स्पष्ट करना चाहिए।यादव ने प्रधानमंत्री की जान पर खतरा से जुड़े सवाल पर कहा कि सुरक्षा एजेंसी पूरे मामले की जांच करे। पीएम की सुरक्षा बेहद जरूरी है। पीएम हों या आम आदमी सभी की सुरक्षा को गंभीरता से ली जाए। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के संबंध में कहा कि न्यूनतम साझा कार्यक्रम बनाने व गठबंधन को मजबूत करने को लेकर उनसे चर्चा हुई।रालोपसा प्रमुख केन्द्रीय राज्यमंत्री उपेन्द्र कुशवाहा कहा कि वह निजी कारणों से गुरुवार को पटना नहीं आ सके। इसी कारण एनडीए के भोज में शामिल नहीं हो सके। कोई नाराजगी नहीं है। वह एनडीए के साथ हैं और गठबंधन एकजुट है।कुशवाहा ने शुक्रवार को पटना आने के बाद एयरपोर्ट पर कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को भी भोज में आना था। वह नहीं आए। इसका मतलब यह थोड़े होता है कि वह नाराज हैं। हालांकि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भूदेव चौधरी ने गुरुवार को भोज में मीडिया से कहा था कि कुशवाहा प्लेन मिस कर गए। वहीं, अपनी पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष नागमणि के उस बयान पर कि एनडीए को बिहार में सफल होना है तो उपेन्द्र कुशवाहा के चेहरे को आगे कर चुनाव लड़ना होगा, के बारे में पूछने पर कुशवाहा ने कहा कि इसका जवाब तो खुद नागमणि ही दे सकते हैं।कुशवाहा सुबह पटना आकर सीधे रोहतास क्षेत्र में चले गए। शुक्रवार शाम को वह उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के दावत-ए-इफ्तार में भी शामिल नहीं हुए।रालोसपा अध्यक्ष व केंद्रीय राज्यमंत्री उपेंद्र कुशवाहा के एनडीए के भोज में शामिल नहीं होने को लेकर शुक्रवार को भी सियासी बयानबाजी तेज रही। हालांकि कुशवाहा ने कहा कि कोई नाराजगी नहीं है। वह एनडीए के साथ हैं। वहीं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने कहा कि एनडीए में सीटों को लेकर विवाद नहीं है। दूसरी ओर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने रालोसपा प्रमुख को महागठबंधन में आने का खुला ऑफर दिया। कहा कि वे आएं तो हम विचार करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here