बिहार में मौसम का कहर: वज्रपात ने ले ली 21 लोगों की जान, 22 घायल

0
105

बिहार के विभिन्न जिलों में मौसम ने कहर बरपाया है। राज्‍य के विभिन्‍न जिलों में सुबह से आंधी के साथ बारिश और वज्रपात से 21 लोगों की मौत हो गई तो वहीं 22 लोग घायल हो गए।
पटना । आंधी बारिश के बीच गुरुवार और शुक्रवार को हुए वज्रपात से प्रदेश में 21 लोगों की मौत हो गई। पूर्व बिहार, कोसी और सीमांचल में 11 लोगों की मौत की खबर है, जबकि दरभंगा में छह, कैमूर में तीन और मोतिहारी में एक व्यक्ति की जान गई है। 22 लोग घायल हैं।दरभंगा और पूर्वी चंपारण जिले में शुक्रवार की सुबह वज्रपात की घटनाएं हुईं, जिनमें सात लोगों की मौत हो गई, जबकि चार महिलाएं घायल हो गईं। दरभंगा के झझड़ा, डुबहा, कुबोटन, बिरौल प्रखंड के नोडेगा, पोखराम तथा मोरो थाना क्षेत्र के खपड़पुरा में वज्रपात से लोगों की जान गई। मोतिहारी के लखौरा थाना स्थित मुशहरी एक व्यक्ति की मौत हो गई।सहरसा के सरोजा पंचायत के करुआ में गुरुवार की रात ठनका गिरने से एक ही परिवार के दो बच्चे सहित तीन की मौत हो गई और एक बच्चा गंभीर रूप से झुलस कर जख्मी हो गया। तरियामा पंचायत के तुर्की गांव में वज्रपात से 12 वर्षीय बच्ची की मौत हो गई।सलखुआ थाना क्षेत्र के गोसपुर में ठनका गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। महिषी के बघवा पंचायत अन्तर्गत फोरसाही टोला निवासी एक वृद्ध और काशनगर थाना अंतर्गत कोपा वार्ड नंबर में एक महिला की मौत हो गई है। मधेपुरा जिले में भी शुक्रवार को व्रजपात से एक व्यक्ति मौत हो गई और 12 लोग जख्मी हो गए हैं।खगडिय़ा के चौथम में ठनका गिरने से सरसवा गांव में एक युवक की मौत हो गई। भागलपुर जिले के पीरपैंती में भी एक युवक की मौत ठनका गिरने से हो गई। पूर्णिया जिले के बीकोठी में ठनका से राम ऋषिदेव और श्रीनगर में सागर महतो ही मौत हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here