मुझे यकीन है इस मुलाकात के बाद हमारे रिश्ते अच्छे होंगे : डोनाल्ड ट्रंप

0
81

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच सिंगापुर में ऐतिहासिक मुलाकात हुई। इस मुलाकात पर हर किसी की नजर टिकी हुई थी। ऐसा इसलिए भी था क्योंकि 1950-53 में हुए कोरियाई युद्ध के बाद से अब तक अमेरिका और उत्तर कोरिया के नेता कभी नहीं मिले और न ही फोन पर बात की। सिंगापुर के कैपेला रिजॉर्ट में हुई दोनों की मुलाकात करीब 50 मिनट तक चली।ये मुलाकात जितनी बड़ी थी, उतनी ही सकारात्मक इस मुलाकात की शुरुआत हुई। वार्ता शुरू होने से पहले सबसे पहले दोनों ने एक दूसरे से हाथ मिलाया और चेहरे पर मुस्कुराहट के साथ होटल के अंदर चले गए। बातचीत शुरू करने से पहले ट्रंप ने कहा कि मुझे विश्वास है कि इस मुलाकात के बाद दोनों देशों को बीच अच्छे संबंध होंगे। मुझे उम्मीद है किम से अच्छी बाताचीत होगी। पुराने तमाम मतभेद भुलाकर हम अब आगे बढ़ चुके हैं। वहीं ट्रंप के इस बयान पर किम ने कहा, तमाम बाधाओं को दूर कर हमारी मुलाकात हुई है, क्योंकि आपसे मिलना आसान नहीं था।बता दें कि ट्रंप और किम सेंटोसा द्वीप के कैपेला रिजॉर्ट में वार्ता के लिए रविवार को ही सिंगापुर पहुंच गए थे। इस बैठक के सिंगापुर की सरकार ने भारी सुरक्षा के इंतजाम कर रखे हैं। वहीं मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि किम ने ट्रंप को जुलाई में दूसरी मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया आने का न्योता दिया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर दोनों नेताओं की दूसरी वार्ता भी हो जाती है तो तीसरी मुलाकात वॉशिंगटन में होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here