भारत को मिलेंगे 6 अपाचे हेलीकॉप्टर, US से 6340 करोड़ रुपये में हुआ सौदा

0
13

अमेरिकी सरकार ने भारत को छह अपाचे जंगी हेलीकॉप्टर बेचने के सौदे को मंजूरी दे दी है। ये सौदा 6340 करोड़ रुपये (930 मिलियन डॉलर) में किया गया है। इस समझौते को अमेरिकी कांग्रेस के पास भेज दिया गया है। बताया जा रहा है कि अगर इस समझौते पर कोई भी सांसद सवाल नहीं उठाता है तो इसे मंजूरी के लिए आगे भेज दिया जाएगा।बोइंग और भारतीय साझेदार टाटा ने भारत में अपाचे हेलीकॉप्टर की बॉडी बनानी शुरू कर दी है, लेकिन मंगलवार को जिस सौदे को मंजूरी दी गई है उसके तहत भारत को पूरी तरह तैयार हेलीकॉप्टर बेचा जाएगा। बता दें इन हेलीकॉप्टर्स को अमेरिकी कंपनी बोइंग बनाती है और इन्हें दुनिया के सबसे बेहतरीन अटैक हेलीकॉप्टर माना जाता है।हेलीकॉप्टर के अलावा, समझौते में नाइट विजन सेंसर, जीपीएस मार्गदर्शन, एंटी-कवच और स्टिंगर एयर-टू-एयर मिसाइल शामिल हैं। अमेरिकी रक्षा सुरक्षा सहयोग एजेंसी ने एक बयान में कहा, “AH-64E हर तरह के खतरों का सामना करने और अपनी सशस्त्र बलों का आधुनिकीकरण करने के लिए भारत की रक्षात्मक क्षमता में वृद्धि प्रदान करेगा।”अपाचे को यूएस आर्मी के एडवांस्‍ड अटैक हेलीकॉप्‍टर प्रोग्राम के लिए डेवलप किया गया था। इसने पहली उड़ान 30 सितंबर 1975 को भरी थी। अप्रैल 1986 में अपाचे को यूएस आर्मी में शामिल किया गया था। हालांकि, तब ये इतने मॉर्डन नहीं थे, जितने आज हैं। फिलहाल, अपाचे को दुनिया का सबसे खतरनाक अटैक हेलिकॉप्टर माना जाता है। आज ये हेलीकॉप्टर यूएस आर्मी के अलावा इजरायल, मिस्र और नीदरलैंड की आर्मी भी इस्तेमाल करती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here