‘संपर्क फॉर समर्थन’ के जरिए लोगों को मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाने की तैयारी

0
86

लोगों के बीच संपर्क फॉर समर्थन के जरिए केंद्र की राजग सरकार की उपलब्धियों को बताने के लिए पम्पलेट बांटे जाएंगे।
पटना । केंद्र सरकार के चार साल पूरे हो गए है। अगले साल यानि 2019 में आम चुनाव होना बाकी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश दुनिया में भारत का नाम रोशन हुआ। इनके कार्यकाल में किसी भी प्रकार के धब्बे नहीं लगे। लोगों के बीच नरेंद्र मोदी के प्रति विश्वास बढ़ा है। इसी के मद्देनजर पार्टी के नेता, कार्यकर्ता, अन्य गणमान्य लोग मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाने से बाज नहीं आ रहे है। और होना भी चाहिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में लोगों के बीच विश्वास बढ़ा है।
इसी को लेकर केंद्र सरकार की एनडीए सरकार पिछले चार साल में जिस ईमानदारी और लगन से कार्य करते हुए देश दुनिया में लोगों के बीच विश्वास प्राप्त किया है, उसी को ध्यान में रखकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने पूरे देश में ‘संपर्क फॉर समर्थन’ के नाम पर अपनी केंद्र सरकार के विकास की योजनाओं और उपलब्धियों का पम्पलेट जनता के बीच बाटकर उन्हें केंद्र सरकार द्वारा इन चार वषरें जनता के लिए किए कायरें को बता रही है। इसी कार्यक्रम के तहत बुधवार को पटना विश्वविद्यालय के शिक्षकों के बीच भाजपा नेता पटना विश्वविद्यालय शिक्षक संघ के पूर्व महासचिव डॉ. अनिल कुमार और भाजपा शिक्षक प्रकोष्ठ के पूर्व प्रदेश सह संयोजक डॉ. संजय श्रीवास्तव ने इस ‘संपर्क फॉर समर्थन’ अभियान की शुरुआत पटना विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. रास बिहारी प्रसाद सिंह को केंद्र की मोदी सरकार की उपलब्धियों और विकास की योजनाओं का पम्पलेट सुपुर्द की और उनके साथ केंद्र सरकार की उपलब्धियों और विकास योजनाओं पर चर्चा की। उसके बाद अभियान में अन्य शिक्षकों के पास जाकर भी केंद्र सरकार की उपलब्धियों और विकास योजनाओं पर चर्चा की। इनमें मुख्य रूप से पटना विश्वविद्यालय के मानविकी संकाय के डीन प्रो. अखलानन्द त्रिपाठी, पटना सायंस कॉलेज के प्राचार्य प्रो. राधाकात प्रसाद, प्रो. रमेश शुक्ला, परीक्षा नियंत्रक डॉ. आर. के मंडल , डॉ. अतुल आदित्य पाडेय , डॉ. सतेंद्र कुमार, डॉ. संजय कुमार थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here