राज्यपाल का बड़ा बयान-छेड़खानी की शिकायत बेटियां सीधे राजभवन में करेंगी

0
102

बिहार के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने घोषणा की है कि छात्राओं या महिलाओं के साथ छेड़खानी की घटना हो तो वे इसकी शिकायत सीधे राजभवन में कर सकेंगी।
पटना । बिहार के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि अब बिहार के कॉलेजों की छात्राएं और सूबे की महिलाएं या लड़कियां अब छेड़खानी की शिकायत सीधे राजभवन में कर सकेंगी। उन्होंने कहा कि छेड़खानी की शिकायत थाने में बाद में पहले राजभवन में होगी। इसके लिए कोई भी महिला राजभवन में 24 घंटे में कभी भी फोन कर सकती है।ये घोषणा राज्यपाल ने पटना में आयोजित छात्र संवाद कार्यक्रम के दौरान कहीं। ये भी कहा कि राजभवन में कुछ अधिकारियों को इसके लिए नियुक्त किया गया है। राजभवन के ये अधिकारी खुद जाकर महिला की ना सिर्फ सहाय़ता बल्कि एफआईआर वगैरह दर्ज करायेंगें। राज्यपाल ने कहा कि इसके लिए राजभवन में कुछ टेलिफोन लाइन्स लगाये जा रहे हैं। राज्यपाल ने कहा कि हर कक्षा में अब सीसीटीवी कैमरे लगाये जायेंगे और कॉलेज के शिक्षक भी अब हर वक्त राजभवन की नजर में होंगे। उन्होंने कहा कि शिक्षकों को अब ना सिर्फ बायोमिट्रिक मशीन में हाजिरी लगानी होगी बल्कि उनकी हर कक्षा पर सीसीटीवी के माध्यम से राजभवन की नजर रहेगी।उन्होंने कहा कि शिक्षक क्या पढा रहे हैं, पढा भी रहें हैं या नहीं, ये सब राजभवन की निगरानी में रहेगा और एक साल के अंदर इसकी व्यवस्था पूरी कर ली जाएगी। राज्यपाल ने कहा कि हर कॉलेज के छात्रों और शिक्षकों को अपनी महिला सहकर्मियों और छात्राओं का सम्मान करना होगा ।छात्र संवाद में विशिष्ट अतिथि के तौर पर पहुंचे बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने छात्रों से कहा कि देश को नरेन्द्र मोदी और नीतीश कुमार जैसे इमानदार नेता चाहिए। वहीं उन्होंने विरोधियों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि राजनीति को धनार्जन का जरिया समझने वाले नेताओं की जरुरत देश को नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here