अरमान कोहली के खिलाफ दर्ज FIR रद्द, गर्लफ्रेंड ने इस शर्त पर वापस लिया केस

0
46

बॉम्बे हाईकोर्ट ने एक्टर अरमान कोहली के खिलाफ दर्ज FIR को आज खारिज कर दिया। कोहली ने अपनी गर्लफ्रेंड के साथ मारपीट करने के लिए
अफसोस और पछतावा जाहिर करते हुए जेल से एक हलफनामा दाखिल किया था जिसके बाद हाईकोर्ट ने उनके खिलाफ दर्ज FIR को खारिज कर दिया।
मुंबई पुलिस ने किया एक्टर अरमान कोहली को अरेस्ट, गर्लफ्रेंड से की थी मारपीट
अदालत ने कहा कि पीड़िता नीरू रंधावा ने FIR खारिज करने पर सहमति जताई है और वह मामले को आगे नहीं बढ़ाना चाहती है इसलिए FIR रद्दकरना ही बेहतर है। इससे पहले अदालत के पिछले आदेश का अनुपालन करते हुए कोहली के वकील ने अदालत में यह हलफनामा दाखिल किया जिसमें एक्टर ने ये भरोसा दिलाया कि वह भविष्य में इस तरह का बर्ताव नहीं दोहराएंगे।
नीरू ने अरमान और काजोल की बहन तनीषा को लेकर किया ये बड़ा खुलासा
बिग बॉस के एक्स कंटेस्टेंट अरमान को खानी पड़ेगी जेल की हवा, नहीं मिली जमानत
अदालत में मौजूद नीरू ने भी एक हलफनामा दाखिल किया जिसमें उन्होंने कहा कि कोहली के परिवार और दोनों के दोस्तों के हस्तक्षेप के बाद उन्होंने और कोहली ने इस मामले को आपसी सहमति से सुलझाने का फैसला किया है।नीरू ने अदालत को यह भी बताया कि उन्हें कोहली के परिवार से आर्थिक मुआवजा मिल गया है और कुछ दिन बाद की तारीख के चेक भी उन्हें मिलेंगे। नीरू ने अदालत से कहा, “ अगर समझौते की शर्तें मान ली जाती हैं तो वह मामला वापस लेने के लिए तैयार हैं।”इस पर पीठ ने FIR रद्द करने की अनुमति दे दी और आर्थर रोड जेल अधिकारियों को कोहली को हिरासत से रिहा करने का निर्देश दिया। पीठ ने कहा,“हमें उम्मीद और विश्वास है कि याचिकाकर्ता (कोहली) ने हलफनामे में जो कहा है, वह उसका पूरी तरह से पालन करेंगे।”अदालत ने कोहली को आज से छह महीने के भीतर टाटा मेमोरियल सेंटर के बाल उपचार केंद्र और द नेशनल एसोसिएशन ऑफ द ब्लाइंड के पास एक-एक लाख रुपये जमा कराने का निर्देश भी दिया है। कोहली को पुलिस ने लोनावाला से इस सप्ताह की शुरूआत में गिरफ्तार किया था और उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 326 के तहत मामला दर्ज किया था। मुम्बई के मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने कोहली की जमानत याचिका को बुधवार को खारिज कर दिया था और उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here