खेत में मिट्टी के भीतर बिछी थीं 3000 शराब की बोतलें, देखकर पुलिस के उड़े होश

0
64

पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर खेत की खुदाई कर तीन हजार के लगभग शराब की बोतलें जमीन के भीतर से बरामद की है। इसके साथ ही शराब तस्कर को भी धर दबोचा है।
बक्सर । कोरानसराय पुलिस द्वारा गुप्त सूचना के आधार पर नवाडीह गांव में शराब की बड़ी खेप के साथ नशे के सौदागर को दबोच लिया गया। गिरफ्तार धंधेबाज की निशानदेही पर पुलिस कई संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही हैं।पिछले कई माह से इलाके के नवाडीह गांव शराब सप्लाई का सेफ जोन बना था। कोरानसराय थाना की कमान संभालते ही थानाध्यक्ष जयप्रकाश सिंह द्वारा पूर्व में कई बार प्रयास किया गया। लेकिन, धंधेबाज चकमा देने में कामयाब होते रहे।मंगलवार की रात ही पुलिस को जानकारी मिली कि नवाडीह गांव के निवासी रामकृष्ण यादव के पुत्र जिम्मेदार यादव शराब की बड़ी खेप पशुचारा से लहलहाते खेत में छिपाकर रखा है। भंडारण किए गए शराब कोरानसराय एवं मुरार थाना इलाके में कई गांवों में सप्लाई करने की तैयारी चल रही है।सूचना मिलते ही कोरानसराय थाना पुलिस द्वारा गांव में सघन छापेमारी अभियान चलाकर जोन्हरी की खेत रखा कुल 59 पेटी में तकरीबन पौने तीन हजार बोतल अंग्रेजी शराब के साथ धंधेबाज जिम्मेदार यादव को गिरफ्तार किया गया।
इसके बाद कोरानसराय पुलिस का दावा है कि गिरफ्तार शराब तस्कर की निशानदेही पर इलाके में शराब तस्करों के खिलाफ नकेल कसने पर बड़ी कामयाबी मिल सकती है।
इस संदर्भ में पूछने पर थानाध्यक्ष जयप्रकाश सिंह ने बताया कि छापेमारी में कुल 59 पेटी शराब बरामद हुई है। शराब की कुल मात्रा का अभी आकलन नहीं हो पाया है। वहीं, जानकार सूत्रों ने बताया एक पेटी में 48 बोतल शराब होती है। उस आधार पर 3000 बोतलें बरामद हुई हैं। जिनकी कीमत लाखों में है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here