अगले 5 साल में 200 से ज्यादा मैच खेलेगा भारत, लेकिन इस तरह होगी कम थकान!

0
27

भारत 2018 से 2023 के अंतरार्ष्ट्रीय सत्र में पांच वर्षों के दौरान 200 से ज्यादा मैच खेलेगा जो किसी अन्य टीम से ज्यादा होंगे। आईसीसी के पूर्ण सदस्यों देशों के लिए पहली विश्व टेस्ट चैंपियनशिप और एकदिवसीय क्वालिफिकेशन लीग सहित भविष्य दौरा कार्यक्रम जारी किया गया है। भारत एशेज की टीमों ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड को छोड़कर एकमात्र ऐसी अन्य टीम है जो पांच टेस्टों की सीरीज खेलेगी। भारत अगले चार वर्षों में इंग्लैंड से दो बार ऐसी सीरीज खेलेगा।इस चक्र के दौरान भारत अपने घर में पाकिस्तान और आयरलैंड को छोड़कर हर टेस्ट मैच खेलने वाले देशों के खिलाफ मई 2023 से पहले तक कुल 102 अंतरार्ष्ट्रीय मैच खेलेगा। ओवरआल भारत 200 से ज्यादा अंतरार्ष्ट्रीय मैच खेलेगा जो किसी अन्य अंतराष्ट्रीय टीम से ज्यादा होंगे।बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘अब एफटीपी द्विपक्षीय समझौते की तरह है लेकिन कैलेंडर (एफटीपी) निर्माण में आईसीसी ने भी अपना सुझाव दिया हैं। जो लोग ऐसा सोचते हैं कि बीसीसीआई टेस्ट मैचों को नजरअंदाज कर रही है उन्हें राहत की सांस लेनी चाहिए कि हम अगले पांच साल में 50 से ज्यादा टेस्ट मैच खेल रहे है।’ भारतीय टीम के मैचों के बोझ (आईपीएल के कारण) को देखते हूए हर साल इसकी संख्या कम होती जाएगी। टीम को 2018-19 सत्र में 54 मैच खेलने हैं जबकि इसके बाद अगले चार सत्र में क्रमश : 41, 33, 40 और 35 मैच खेलने हैं।भारत 2018-19 में अफगानिस्तान, वेस्ट इंडीज, ऑस्ट्रेलिया और जिम्बाब्वे से घर में खेलेगा और विदेश में आयरलैंड, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड से खेलेगा। 2019-20 में भारत घर में दक्षिण अफ्रीका, बंगलादेश, वेस्ट इंडीज और ऑस्ट्रेलिया से खेलेगा जबकि विदेश में वह वेस्ट इंडीज और न्यूजीलैंड से खेलेगा।2020-21 में भारत घर में इंग्लैंड,जिम्बाब्वे और अफगानिस्तान से तथा विदेश में श्रीलंका,जिम्बाब्वे और ऑस्ट्रेलिया से खेलेगा। भारत 2021-22 में घर में दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड,वेस्ट इंडीज और श्रीलंका से तथा विदेश में श्रीलंका,इंग्लैंड,दक्षिण अफ्रीका और न्यूजीलैंड से खेलेगा। 2022-23 में भारत घर में ऑस्ट्रेलिया, श्रीलंका, इंग्लैंड और न्यूजीलैंड की मेजबानी करेगा जबकि विदेश में वह इंग्लैंड, वेस्ट इंडीज और बंगलादेश से खेलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here