मानसून की चाल कमजोर, 24 जून से सक्रिय होने के आसार

0
75

इस सप्ताह देशभर में मानसून की चाल कमजोर रहेगी, मगर अगले सप्ताह 24 जून से मानसून सक्रिय हो सकता है। मौसम पूवार्नुमानकर्ता स्काइमेट के अनुसार, देश के अधिकांश हिस्सों में मानसून की स्थिति कमजोर बनी हुई है।लेकिन 24 जून से मानसून फिर से सक्रिय हो सकता है। स्काइमेट ने गुरुवार को अपनी रिपोर्ट में कहा कि मैडेन जूलियन ओशीलेशन (एमजेओ) मानसून के अनुकूल हो रहा है और बंगाल की खाड़ी के उत्तरी भागों में मानसून सिस्टम विकसित होने वाला है, जिससे 24 जून से पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के कुछ और भागों तथा ओड़िशा में मानसून प्रभावी हो जाएगा।स्काइमेट ने अगले 24 घंटे कोंकण क्षेत्र में गोवा, तटीय कनार्टक और केरल में बारिश जारी जारी रहने की संभावना जताई है। इन इलाकों में मूसलधार वर्षा हो सकती है।मध्य महाराष्ट्र और विदर्भ में भी मानसून सक्रिय रहेगा और मध्यम से भारी वर्षा दर्ज की जा सकती है। उत्तरी तेलंगाना, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, मेघालय, नागालैंड, अरुणाचल प्रदेश और दक्षिणी छत्तीसगढ़ में मानसून सामान्य रहेगा और हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की जाएगी। गंगीय पश्चिम बंगाल, ओड़िशा, आंध्र प्रदेश, मराठवाड़ा, आंतरिक कनार्टक, दक्षिणी तेलंगाना और तमिलनाडु में मानसून कमजोर रहेगा। इन भागों में कम वर्षा के आसार हैं।बीते 24 घंटों के दौरान गोवा और तटीय कनार्टक में मानसून काफी सक्रिय रहा और भारी वर्षा हुई। केरल में भी मानसून सक्रिय रहा। मध्य महाराष्ट्र, विदर्भ, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, अरुणाचल प्रदेश, नगालैंड और तेलंगाना के भी कुछ हिस्सों में सामान्य मानसून के बीच हल्की से मध्यम बारिश हुई।दूसरी ओर ओड़िशा, छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश, आंतरिक कनार्टक और तमिलनाडु में मानसून कमजोर रहा और बारिश न के बराबर हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here