आतंकियों के जनाज़े के दौरान जम्मू कश्मीर सुरक्षाबलों के रेडार पर होंगे कट्टरपंथी

0
230

जम्मू कश्मीर पुलिस अब उन लोगों पर कार्रवाई करेगी जो आतंकियों की मौत पर उसके कसीदे पढ़ते हैं और भड़काऊ भाषण देते हैं। पुलिस का ऐसा मानना है कि तरह से वे लोग युवाओं को आतंकी संगठनों से जुड़ने के प्रति उनका हौसला बढ़ाते है।राज्य पुलिस चीफ एसपी वैद्या ने बताया- “हम ऐसी एकत्रित होनेवाली भीड़ की चुनौतियों से निपटने के लिए रणनीति बना रहे हैं।” हालांकि, वैद्य ने रणनीति के बारे में बताने से इनकार कर दिया। लेकिन, श्रीनगर सुरक्षाबलों के सूत्र ने बताया कि राज्य पुलिस से यह कहा गया है कि वे ऐसे लोगों की पहचान करें जो आतंकियों की मौत पर भड़काऊ भाषण देते हैं और उसकी मौत को शहीद की तरह बढ़ा-चढ़कर पेश करते हैं।जम्मू कश्मीर पुलिस अधिकारी के सूत्र ने बताया कि पुलिस अब ऐसे उपाय भी अपनाएगी ताकि आतंकियों के जनाज़े के वक्त बड़ी तादाद में लोग इकट्टा ना हो पाएं। उन्होंने बताया- “हम उन इलाकों का संपर्क काटना चाहते है ताकि लोग बड़ी तादाद में वहां पर नहीं पहुंच पाएं। लेकिन, हमारी सफलता उस खास इलाके की भौगोलिक स्थिति पर निर्भर करेगी। कभी-कभी नियंत्रण के उपाय ज्यादा मुश्किल हो जाते हैं।”जम्मू कश्मीर विधनसभा के कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्सवादी) के सदस्य एम.वाई. तारीगामी ने कहा कि प्रशासन को काफ सावधानी पूर्वक इस मामले को देखना होगा। उन्होंने कहा कि युवाओं की जान जा रही है। कट्टरपंथी तत्वों को इस स्थिति का फायदा उठाने की इजाजत नहीं दी जा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.