पीडीपी से गठबंधन टूटने के बाद पहली बार जम्मू पहुंचे शाह, बलिदान दिवस में होंगे शरीक

0
77

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) से समर्थन वापस लेने के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के जम्मू के शनिवार के पहले दौरे के मद्देनजर ‘मंदिरों के इस शहर’ को भगवा रंग में सराबोर कर दिया गया है।पार्टी के मीडिया प्रभारी अनिल बलूनी के मुताबिक शाह जम्मू में पार्टी के संस्थापक डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के सम्मान में आयोजित ‘बलिदान दिवस’ समारोह में भाग लेने के अलावा पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक में भाग लेंगे और पार्टी कार्यों की समीक्षा करेंगे।जम्मू कश्मीर के प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रवींद्र रैना ने बताया कि शाह एक रैली को भी संबोधित करेंगे। इस रैली में केंद्रीय राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह और अन्य नेता भी मौजूद रहेंगे। पीडीपी-भाजपा सरकार में मंत्री रहे भाजपा के विधायक भी इस रैली में भाग लेंगे।राज्य में गत 19 जून को भाजपा-पीडीपी गठबंधन टूटने के बाद भाजपा के किसी शीर्ष नेता का यह पहला दौरा होगा। पार्टी सूत्रों के अनुसार शाह के स्वागत के लिए हवाई अड्डे से समारोह स्थल तक भाजपा के झंडे लगाये गये हैं। पार्टी कार्यकर्ताओं ने कहा कि यह मात्र एक कार्यक्रम नहीं है, यह जम्मू के लोगों का एक बड़ा समारोह है।भाजपा सरकार से अलग हो गयी है। पीडीपी को उसकी गलत नीतियों की वजह से सत्ता से अलग कर दिया गया है। केन्द्र सरकार के पूरे समर्थन के बावजूद पीडीपी अपनी गलत नीतियों के कारण विकास करने में विफल रही है।भाजपा कार्यकर्ता अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष के जोरदार स्वागत के लिए बहुत उत्साहित हैं। पार्टी के विधायक और सांसद शाह को अपने-अपने क्षेत्रों के कामकाज के बारे में जानकारी भी देंगे। शाह का जम्मू दौरा दो सप्ताह पहले ही बन चुका था। वर्ष 2015 में भाजपा-पीडीपी गठबंधन बना था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here