राज्यपाल शासन के बाद कश्मीर में हुई बड़ी मुठभेड़ में चार आतंकी ढेर

0
44

दक्षिणी कश्मीर के नौशेरा गांव में शुक्रवार को हुई मुठभेड़ में चार आतंकी मारे गए जबकि एक पुलिस का जवान शहीद हो गया। रिपोर्ट्स के मुताबिक, वहां पास ही पुलिस और स्थानीय लोगों की झड़प में एक स्थानीय नागरिक भी मारा गया।मारे गए चार आतंकवादियों में से एक की पहचान पुलवामा जिले के तलंगम गांव के निवासी मजीद मंजूर के रूप में हुई है, जबकि एक अन्य की पहचान श्रीनगर के एचएमटी इलाके के निवासी के रूप में हुई है। दो आतंकवादियों की शिनाख्त होनी अभी बाकी है। मौतों की पुष्टि करते हे जम्मू कश्मीर के महानिदेश एसपी वैद्य ने ट्वीट करते हुए कहा कि मुठभेड़ में मारे गए दो आतंकी इस्लामिक स्टेट ऑफ जम्मू एंड कश्मीर (आईएसजेके) जुड़े हुए थे। समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, पुलिस ने उनमें से एक आतंकी की पहचान आईएसजेके चीफ दाऊद के तौर पर की है।वैद्य ने ट्वीटर पर इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि आतंकियों के दो और शव बरामद हुए हैं। जिसके बाद मरनेवाले कुल चार आतंकी हो गए हैं।सूत्रों के मुताबिक, शुक्रवार की सुबह अनंतनाग टाउन से करीब 10 किलोमीटर दूर आतंकी एक घर के अंदर छिपे हुए थे और जैसे ही सेना के जवानों ने सर्च ऑपरेशन शुरू किया वे उन पर खुलेआम फायरिंग करने लगे। जैसे ही मुठभेड़ शुरू हुई गांववालों ने सुरक्षाबलों पर पत्थर फेंकने शुरू किए ताकि उन आतंकियों को वहां से भगाया जा सके। इस हिंसक झड़प पर एक नागरिक मारा गया जबकि 12 अन्य लोग घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि मोहम्मद युसूफ नाम के शख्स की मौत हो गई जबकि उसकी पत्नी को शेर-ए-कश्मीर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज ले जाया गया है जहां पर स्थिति बेहद गंभीर बनी हुई है।मुठभेड़ को देखते हुए श्रीनगर में इंटरनेट की सेवाएं रोक दी गई। राज्य में राज्यपाल शासन लागू करने के बाद आतंकियों से सुरक्षाबलों का यह पहली मुठभेड़ थी। इससे पहले त्राल में हुए मुठभेड़ में तीन आतंकी मारे गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here