ड्रग्स से छुटकारा पाना नहीं था संजय के लिए आसान, रिहैब से लौटते ही घर पर मिला था पुराना सप्लायर…जानें फिर क्या हुआ

0
150

संजय दत्त इन दिनों अपनी बायोपिक संजू को लेकर खूब सुर्खियों में हैं। उनकी जिंदगी पर बन रही फिल्म संजू में जिंदगी के हर पहलू को बखूबी दिखाया गया है। इसमें संजय दत्त का किरदार निभा रहे हैं रणबीर कपूर। अंडरवर्ल्ड से जुड़े संजय के तारों की सच्चाई को भी फिल्म में दिखाया गया है। संजय दत्त का ड्रग्स लेना और दो साल तक रिहैब में उससे छुटकारा पाने का सफर भी दर्शकों तक पहुंचाने की कोशिश की गई है। संजय दत्त को ड्रग्स छोड़ने के लिए कैसे और किससे प्रेरणा मिली इस बात को शायद कम ही लोग जानते हैं। तो हम आपको बता दें कि संजय दत्त ने खुद अपने पिता सुनील दत्त से गुजारिश की थी कि वो उनकी मदद करें और उन्हें नशे के जंजाल से बाहर निकालें।दरअसल, एक बार संजय दत्त ने गहरी नींद से जागने के बाद नौकर से खाना मांगा तो उनका नौकर एकदम रोने लगा। नौकर को रोता देख संजय दत्त एकदम से घबरा गए और पूछा क्या हुआ तो नौकर ने बताया कि आप दो दिन से भूखे सो रहे थे। ये बात जानकर खुद संजय दत्त चौंक गए थे। इस घटना के बाद संजय दत्त ने पिता से विनती की कि उन्हें इस जंजाल से बाहर निकालने में मदद करें। जब उन्हें अमेरिका के ब्रीच कैंजी हॉस्पिटल भेजा गया। दो साल इलाज कराने के बाद जब संजय दत्त वापस लौटे तो उन्हें घर पर ड्रग्स का पुराना सप्लायर मिला, जिसे देख संजू भी हैरान रह गए। संजय ने उनसे वहां आने का कारण पूछा, तो सप्लायर ने कहा कि वे अपने क्लाइंट का ध्यान अच्छे से रखते हैं और वे वहां उन्हें ड्रग्स देने आए हैं।संजय चाहते तो उनसे ड्रग्स खरीद सकते थे, लेकिन उन्होंने दूसरा रास्ता चुना और सप्लायर से ड्रग्स नहीं खरीदा। संजय दत्त की जिंदगी का ये वाकये अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिन पर एक सबक का काम करता है। बता दें कि संजय दत्त की जिंदगी पर बनी फिल्म संजू 29 जून को रिलीज हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here