सियासी उठापटक के बीच नीतीश को आई लालू की याद, ये रिश्ता क्या कहलाता है….

0
119
Former Chief Ministers of Bihar, RJD chief Lalu Prasad Yadav and JD-U leader Nitish Kumar during a rally in Hajipur of Bihar on Aug 11, 2014. (Photo: IANS)

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राजद सुप्रीमो लालू यादव को फोन कर उनका हालचाल पूछा है। लालू यादव अस्पताल में भर्ती हैं और उनके फिस्टुला का अॉपरेशन हुआ है।
पटना । कहते हैं राजनीति और प्यार में सब जायज होता है। राजनीति में कोई किसी का स्थायी दुश्मन या दोस्त नहीं होता। राजनीतिक रिश्ते अपनी जगह होते हैं तो आपसी रिश्तों की अपनी जगह होती है।महागठबंधन से अलग होने के बाद राजद और जदयू का नेतृत्व कर रहे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के रिश्ते की बात करें तो उनका अपना आपसी रिश्ता बड़े भाई-छोटे भाई कहे जाते हैं।आजकल लालू यादव की तबियत नासाज चल रही है और उनका इलाज मुंबई के एशियन हार्ट हॉस्पिटल में भर्ती हैं। लालू को स्वास्थ्य संबंधी कई शिकायते हैं जिसकी वजह से वो लगातार डॉक्टरों की देख-रेख में रहते हैं। एेसे में अरसे बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को फोन किया और उनका हालचाल पूछा है।बता दें कि लालू यादव अभी मुंबई के एशियन हार्ट अस्पताल में भर्ती हैं और उनका फिस्टुला का अॉपरेशन हुआ है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उनसे फोन कर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली है।उससे कुछ देर पहले आज ही राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के छोटे बेटे और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने खुलकर नीतीश कुमार की आलोचना की थी और जब उन्हें पता चला कि नीतीश कुमार ने लालू को फोन कर उनके स्वास्थ्य का हालचाल पूछा है तो उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि कोई बात नहीं, देर से ही सही, लेकिन नीतीशजी ने लालू जी को फोन कर हालचाल तो पूछा।तेजस्वी ने लिखा कि रविवार को लालू यादव जी का फिस्टुला का अॉपरेशन हुआ था। लेकिन आश्चर्य है कि नीतीश जी ने पिछले चार महीने से बीमार लालू जी का हालचाल नहीं लिया लेकिन आज फोन कर पूछा। शायद उन्हें पता चला कि भाजपा और एनडीए के लोग अस्पताल जाकर हालचाल ले रहे तो उन्होंने भी फोन कर लिया।इससे पहले लालू यादव के जन्मदिन के मौके पर भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट किया था और लिखा था, ”श्री लालू यादव जी को जन्मदिन पर बधाई। उनके शीघ्र स्वस्थ होने की शुभकामनाएं” ट्वीट में उन्होंने लालू को टैग भी किया था। लालू के बड़े बेटे की शादी में कयास लग रहे थे कि नीतीश कुमार शामिल होंगे या नहीं, लेकिन मीसा भारती ने स्वयं उन्हें जाकर शादी का कार्ड दिया था और आने का आग्रह किया था। नीतीश कुमार तेजप्रताप यादव की शादी में पहुंचे थे और उनके मंच पर पहुंचते ही सबकी नजर उनपर ही लगी रही। वह आए तो लालू प्रसाद ने उठकर उनका स्वागत किया और देर तक उनसे हाथ मिलाए रहे।नीतीश ने भी शादी के मौके पर सबका हालचाल पूछा और राबड़ी देवी के बगल में देर तक बैठे रहे। वहीं तेजस्वी यादव राबड़ी और नीतीश के बीच में घुसकर बैठ गए।कैमरा वालों के लिए वह क्षण भी बहुत अहम था जब लालू प्रसाद के दूसरे पुत्र एवं बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, नीतीश कुमार के बगल में आ बैठे। सियासी कटुता को शादी के उमंग और खुशी से भरे माहौल ने पहले ही दूर भगा दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here