इस देश के पूर्व PM के घर से मिला पैसा ही पैसा, गिनने में लगा 1 माह से ज्यादा का वक्त

0
132

मलेशिया में भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रजाक के छह परिसरों पर मारे गए छापे में 273.3 मिलियन डॉलर (करीब 1872 करोड़ रुपए) की संपत्ति जब्त की गई। इनमें नगदी, आभूषण, लग्जरी हैंडबैग, चश्में और महंगी घड़ियां शामिल हैं। ये छापे पिछले महीने मई में मारे गए थे।मलेशिया के पुलिस अपराधा शाखा के प्रमुख अमर सिंह ने बताया कि छापे में मिले सामानों का 150 अफसरों वाली आठ टीम और कई विशेषज्ञों ने मिलकर आकलन किया। इसमें एक महीने से ज्यादा का समय लगा। इसके बाद रजाक के यहां से मिली संपत्ति की घोषणा की गई। अमर सिंह ने कहा कि मुझे लगता है यह मलेशिया के इतिहास की सबसे बड़ी जब्ती है।
1498 करोड़ रुपये के आभूषण मिले हैं
नगदी
198 करोड़ रुपये नगद मिले हैं 26 अलग देशों की मुद्राओं में
22 केंद्रीय बैंक कर्मियों और छह मशीनों ने तीन दिन में इन पैसों की गणना की
आभूषण
25 अलग-अलग बैग में 12000 आभूषण मिले हैं
1498 करोड़ रुपये आंकी गई है इन आभूषणों की कीमत
1400 नेकलेस, 2200 अंगूठियां और 2100 कंगन हैं इनमें
2800 जोड़े कनबालियां, 1600 जड़ाऊ पिन और 14 ताज हैं
10.88 करोड़ रुपये का सबसे महंगा हीरा जड़ित पीले सोने का नेकलेस
हैंडबैग
567 लग्जरी हैंडबैग अलग-अलग ब्रांड के जब्त किए गए हैं
इन ब्रांडों में हर्मेस, प्रादा, चैनल, जूडिथ लीबर और बिजान हैं
87 करोड़ रुपये के सिर्फ हर्मेस ब्रांड के हैंडबैग जब्त किए हैं
2.7 करोड़ रुपये कीमत है जब्त किए गए अन्य हैंडबैग की
घड़ियां
423 घड़िया जब्त की गई हैं 100 से ज्यादा ब्रांड की
इन ब्रांडों में रोलेक्स, चोपर्ड और रिचर्ड मिलल शामिल है
132 करोड़ रुपये है इन 423 घड़ियों की कुल कीमत
6 करोड़ रुपये की सबसे महंगी घड़ी है इनमें पॉल न्यूमैन रोलेक्स डेटोना
चश्मे
234 जोड़े चश्में जब्त किए पुलिस ने छापे के दौरान
63 लाख रुपये कीमत आंकी गई है इन चश्मों की
ये चश्में वर्सास, गुच्ची, कार्टियर और डायर ब्रांड के हैं
नजीब पर भ्रष्टाचार का है आरोप
पूर्व प्रधानमंत्री नजीब पर सरकारी कंपनी 1एमडीबी से 70 करोड़ डॉलर (करीब 4760 करोड़ रुपए) अपने निजी खाते में स्थानांतरित करने का आरोप है। इस साल मई में हुए चुनाव में रजाक के अगुआई वाले बीएन गठबंधन को हार का सामना करना पड़ा।इसके बाद महातिर मोहम्मद प्रधानमंत्री बने थे। उन्होंने नजीब और उनके परिवार के देश छोड़ने पर रोक लगा दी है। नजीब और उनकी पत्नी रोशमा मंसूर से जांच एजेंसी जल्द ही इस मामले में दोबारा पूछताछ कर सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here