नहीं मान रहे किम, ट्रंप से वार्ता के बाद भी उत्तर कोरिया कर रहा परमाणु स्थल पर निर्माण कार्य

0
49

एक निगरानी वेबसाइट ने बुधवार को दावा किया कि सिंगापुर शिखर वार्ता में कोरिया प्रायद्वीप के निरस्त्रीकरण की प्रतिबद्धता की घोषणा के बावजूद उत्तर कोरिया तेजी से अपने परमाणु अनुसंधान केंद्र में सुधार कर रहा है।परमाणु हथियार संपन्न उत्तर कोरिया के नेता किम जांग उन ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ इस महीने की शुरुआत में सिंगापुर में हुई ऐतिहासिक वार्ता में इस लक्ष्य की दिशा में काम करने का वादा किया था, लेकिन सिंगापुर बैठक निरस्त्रीकरण की स्पष्ट परिभाषा देने या उत्तर कोरिया द्वारा परमाणु हथियार भंडार नष्ट करने के लिए स्पष्ट समयसीमा देने में नाकाम रही। ‘38 नार्थ’ वेबसाइट के अनुसार, ट्रंप ने दावा किया कि प्रक्रिया जल्द शुरू होगी और उन्होंने पिछले सप्ताह कहा था, पूर्ण निरस्त्रीकरण होगा जो शुरू हो चुका है, लेकिन वेबसाइट के अनुसार, हालिया उपग्रह तस्वीरों में दिखाया गया कि उत्तर कोरिया के मुख्य योंगबयोन परमाणु स्थल पर न केवल अभियान जारी है बल्कि वह आधारभूत ढांचा संबंधी कार्य भी किए जा रहे हैं।अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन सिंगापुर में ऐतिहासिक शिखर वार्ता के लिये मिले। इस बैठक का उद्देश्य द्विपक्षीय संबंधों को सामान्य बनाना और कोरियाई प्रायद्वीप में पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण था। ट्रंप और किम के बीच यह मुलाकात सिंगापुर के लोकप्रिय पर्यटन स्थल सेंटोसा के एक होटल में हुई। दोनों नेताओं ने शिखर वार्ता की शुरुआत होटल में मीडियाकर्मियों के सामने गर्मजोशी से हाथ मिलाकर की। ट्रंप और किम के बीच यह मुलाकात सिंगापुर के लोकप्रिय पर्यटन स्थल सेंटोसा के लग्जरी होटल कापेला सिंगापुर में हुई।अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के बीच यहां गर्मजोशी से मिले और उनके बीच पहले दौरे की वार्ता हुई। इसके साथ ही द्विपक्षीय संबंधों को सामान्य बनाने और कोरियाई प्रायद्वीप में पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण के उद्देश्य से दोनों नेताओं के बीच ऐतिहासिक शिखर वार्ता की शुरुआत हुई। ट्रंप और किम के बीच यह मुलाकात सिंगापुर के लोकप्रिय पर्यटन स्थल सेंटोसा के लग्जरी होटल कापेला सिंगापुर में हुई।उत्तर कोरियाई मीडिया के मुताबिक किम वास्तव में वार्ता स्थल पर ट्रंप से सात मिनट पहले पहुंच गए थे। ऐसा उन्होंने सम्मान व्यक्त करने के लिये किया क्योंकि यह संस्कृति है , जिसमें युवा बुजुर्गों के प्रति सम्मान व्यक्त करने के लिये उनसे पहले पहुंचते। ट्रंप ने जो लाल टाई पहनी हुई थी वह भी किम के प्रति कुछ सम्मान व्यक्त करने वाली हो सकती है क्योंकि उत्तर कोरियाई इस रंग को पसंद करते हैं।यह पूछे जाने पर कि बातचीत कैसी रही, ट्रंप ने कहा, ”बहुत, बहुत अच्छी। शानदार रिश्ते। किम से कम से कम तीन बार पूछा गया कि क्या वह परमाणु हथियार छोड़ देंगे, इसकी प्रतिक्रिया में वह सिर्फ मुस्कुराए। ट्रंप और किम दोनों ने संक्षिप्त टिप्पणी की।ट्रंप ने कहा कि वह मानते हैं कि वह और किम ” बड़ी समस्या , बड़ी दुविधा को दूर कर लेंगे और साथ काम करके हम इसका ध्यान रखेंगे। किम ने कहा , ” आगे चुनौतियां आएंगी लेकिन हम ट्रंप के साथ काम करेंगे। हम इस शिखर वार्ता को लेकर सभी तरह की अटकलों और संदेहों से पार पा लेंगे और मेरा मानना है कि शांति के लिये यह अच्छा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here