FIFA 2018: सबसे बड़ा उलटफेर, कोरिया ने पूर्व चैंपियन जर्मनी को 2-0 से रौंदकर किया वर्ल्ड कप से बाहर

0
46

फीफा वर्ल्ड कप 2018 में बुधवार को सबसे बड़ा उलटफेर हुआ जब मौजूदा चैंपियन जर्मनी ग्रुप स्टेज में ही टूर्नामेंट से बाहर हो गई। जर्मनी कजान स्टेडियम में खेले गए मैच के दौरान जर्मनी को कोरिया के खलाफ आखिरी पलों में मारे गए गोल के कारण 2-0 से शर्मनाक हार झेलनी पड़ी। इसी के साथ जर्मनी का लगातार दूसरा वर्ल्ड कप जीतना का सपना भी टूट गया है।अपने दूसरे मैच में आखिरी मिनट में लाजवाब गोल करने वाली जर्मनी से कोरिया के खिलाफ भी कुछ करिश्मा करने की उम्मीद थी। लेकिन हुआ बिलकुल उल्टा। साल 2014 में माराकाना स्टेडियम में अर्जेंटीना को 1-0 से हराकर चौथी बार चैम्पियन बनने वाली जर्मन टीम ग्रुप-एफ में दक्षिण कोरिया के खिलाफ एक औसत टीम की तरह खेली और इसका खामियाजा उसे टूनार्मेंट से बाहर हो कर भुगतना पड़ा। इस विश्व कप में जर्मनी को दो मैचों में हार मिली जबकि एक मैच में जीत मिल सकीदूसरी ओर, दक्षिण कोरिया ने फीफा विश्व कप का सबसे बड़ा उलटफेर करते हुए टूनार्मेंट की अपनी पहली और अपनी अब तक की सबसे यादगार जीत दर्ज की। कजान ऐरेना में खेले गए मुकाबले की शुरुआत से जर्मनी ने गेंद पर नियंत्रण बनाते हुए दक्षिण कोरिया पर दबाव बनाने का प्रयास किया। 19वें मिनट में कोरिया को बॉक्स के बाहर फ्री-किक मिली। जुंग वूयंग ने शानदार फ्री-किक ली और जर्मनी के गोलकीपर मैनुअल नॉयर पहली बार में गेंद पकड़ने में कामयाब नहीं हो पाए लेकिन उन्होंने कोरिया को शुरुआती बढ़त नहीं बनाने दी।जर्मनी को मैच में गोल करने का पहला साफ मौका 39वें मिनट में मिला। स्ट्राइकर टीमो वेनेर्र ने कॉर्नर पर बॉक्स में मौजूद डिफेंडर मैट्स हुमल्स को पास दिया जिस पर हुमल्स गोल करने का प्रयास किया। हालांकि, कोरिया के गोलकीपर जो ह्योनवू ने शानदार बचाव करते हुए अपनी टीम को मैच में बनाए रखा। मौजूदा चैम्पियन ने दूसरे हाफ की तेज शुरुआत की और 47वें मिनट में मिडफील्डर लियोन गोरेट्ज्का ने बॉक्स के भीतर से हेडर लगाकर गोल करने का प्रयास किया लेकिन गोलकीपर ने अपनी दाईं ओर कूदते हुए शानदार बचाव किया। मैच के 64वें मिनट में वेनेर्र ने गोल करने का एक और मौका गंवा दिया। इसके चार मिनट बाद, स्ट्राइकर मारियो गोमेज ने बॉक्स के अंदर से शानदार हेडर लगाया लेकिन एक बार फिर कोरिया के गोलकीपर ने बेहतरीन बचाव किया। अंतिम क्षणों में जर्मनी ने अपना आक्रमण तेज किया जिसके कारण मिडफील्डर में कोरिया के खिलाड़ियों को काफी जगह मिली और इंजुरी टाइम (93वें मिनट) में किम यंग-ग्वोन ने हेडर से गोल दागकर अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी।इसके तीन मिनट बाद, सोन हुंगमिन ने दक्षिण कोरिया के लिए दूसरा गोल दागा। उस समय जर्मन गोलकीपर नॉयर गोलपोस्ट छोड़कर अपने साथियों की मदद के लिए मिडफील्ड में आ चुके थे। हुंगमिन ने खाली पड़े गोलपोस्ट को भेदते हुए ऐतिहासिक गोल दागा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here