शैलजा हत्याकांडः कत्ल को अंजाम देने के बाद जंगल गया था निखिल, बरामद हुए चौंकाने वाले सुबूत

0
31

शैलजा हत्याकांड के आरोपी मेजर निखिल की निशानदेही पर पुलिस ने गुरुवार को मेरठ में दौराला टोल प्लाजा से आगे जंगल से हत्या में इस्तेमाल चाकू और जली हुई हालत में उसके कपड़े बरामद कर लिए हैं।सूत्रों के अनुसार, दिल्ली पुलिस की एक टीम गुरुवार सुबह आरोपी को लेकर मेरठ पहुंची। आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने दौराला टोल प्लाजा से आगे जंगल से निखिल के कपड़े और चाकू बरामद कर लिए। कपड़े जली हुई अवस्था में थे। पुलिस जांच में सामने आया कि आरोपी देहरादून हाइवे पर केवल सबूत मिटाने के इरादे से गया था, जहां वह कपड़े जलाने और चाकू फेंकने के बाद वापस आ गया।इस पूरे काम में निखिल को करीब 27 मिनट का समय लिया था। इसकी पुष्टि टोल प्लाजा की सीसीटीवी फुटेज से भी हुई। फुटेज में घटना वाली रात करीब 2.12 बजे वह टोल प्लाजा से देहरादून की तरफ गया, जबकि रात 2.39 बजे वापस आ गया।पुलिस ने सबूत के लिए दौराला टोल प्लाजा की सीसीटीवी फुटेज भी जब्त की। इसके साथ ही टोल प्लाजा के अधिकारियों और कर्मचारियों से भी पूछताछ की गई। सूत्रों की मानें तो सुबह 7 बजे दिल्ली पुलिस की टीम टोल प्लाजा पहुंची और लगभग दस मिनट तक वहां छानबीन तथा पूछताछ की गई।दिल्ली पुलिस की टीम मेजर हांडा के साथ मेरठ कैंट स्थित ऑफिसर मेस में भी गई, जहां वारदात के बाद निखिल क्वार्टर में आकर छिपा था। पुलिस वहां भी पहुंची, जहां आरोपी ने अपनी कार धुलवाई थी। मगर वहां मौजूद कर्मचारियों ने बताया कि उन्होंने मेजर हांडा की कार की सफाई नहीं की थी। ऐसे में अब पुलिस के सामने बड़ा सवाल है कि कार की सफाई किसने की थी।दिल्ली पुलिस की टीम सुबह करीब 5.15 बजे मेरठ के लिए निकली थी और दोपहर 1.30 बजे वापस दिल्ली लौट आई। पुलिस करीब 5 घंटे मेरठ में रही। दिल्ली पहुंचने के बाद पुलिस ने आरोपी से कई घंटे तक पूछताछ की। इस दौरान आरोपी से उसके भाई की वारदात में संलिप्तता को लेकर भी कई सवाल पूछे गए। मगर सूत्रों का कहना है कि आरोपी जांच में सहयोग नहीं कर रहा है।आरोपी निखिल की पुलिस रिमांड गुरुवार को खत्म हो रही है। ऐसे में पुलिस उसे शुक्रवार को कोर्ट में पेश करेगी। पुलिस अधिकारियों की मानें तो इस मामले में पूछताछ लगभग पूरी हो चुकी है और सभी सामान भी मिल गया है। हालांकि, आरोपी के चाचा और भाई की हत्याकांड में भूमिका की जांच बाकी है। अभी यह भी साफ नहीं हो पाया है कि आरोपी वारदात के बाद सीआर पार्क इलाके में क्यों गया था। इसकी जानकारी मेजर निखिल और उसका भाई नहीं दे रहे हैं। ऐसे में पुलिस आरोपी निखिल की रिमांड की मांग कर सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here