बरसात के मौसम में मछली और पालक से परहेज करें

0
40

बारिश का मौसम अपने साथ बहुत सारी बीमारियां भी लेकर आता है। मानसून में हमारे शरीर की पाचन शक्ति सबसे ज्यादा कम होती है, इसलिए खानपान में जरा सी भी लापरवाही भारी पड़ सकती है। आयुर्वेद में हर ऋतु के हिसाब से खानपान तय किया गया है। इसका ध्यान रखें तो बीमार पड़ने से बच सकते हैं। भारतीय योग संस्थान के योग चिकित्सक वेद प्रकाश राठी ने इस मौसम में यह सावधानियां बरतने की सलाह दी है पालक, पत्तागोभी व अन्य पत्तेदार सब्जियों पर कीड़े व बैक्टीरिया होने की संभावना ज्यादा रहती हैइस मौसम में हरी पत्तेदार सब्जियों की पैदावार भी कम होती है अगर खाना है, तो गुनगुने पानी से अच्छे से धो लें।मानसून मछली व अन्य समुद्री जीवों के प्रजनन का समय होता है अंडों वाली मछली खाने से ‘फूड प्वाइजिनिंग’ का खतरा बढ़ जाता है बारिश में पानी में प्रदूषण भी बढ़ जाता है, जिससे मछलियों पर भी गंदगी जमा हो जाती है इस मौसम में ताजा मछली मिलना भी मुश्किल होता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here