8 POINTS में जानें व्लादिमीर पुतिन से मुलाकात को लेकर डोनाल्ड ट्रंप का मकसद क्या है

0
42

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन 16 जुलाई को मिलने जा रहे हैं। दोनों की मुलाकात से पहले व्हाइट हाउस ने कहा है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन के साथ मुलाकात में जानने का प्रयास करेंगे कि रूस द्विपक्षीय संबंध में प्रगति को इच्छुक है भी या नहीं। व्हाइट हाउस और क्रेमलिन ने गुरूवार को इस बात की घोषणा की थी कि ट्रंप और पुतिन द्विपक्षीय संबंधों में सुधार एवं राष्ट्रीय सुरक्षा के विविध मुद्दों पर चर्चा करने के लिए 16 जुलाई को फिनलैंड की राजधानी हेलिंस्की में मुलाकात करेंगे।
1. मुलाकात से पहले ट्रंप ने कहा है कि हम इसे (भेंट को) लेकर आशान्वित हैं। अगर हम चीजें दोस्ताना कर पाते हैं तो वह एक बहुत अच्छी बात होगी। दुनिया को मधुर संबंधों के लिए शुरुआत करनी होगी।
2. व्हाइट हाउस की उप प्रेस सचिव लिंडसे वाल्टर्स ने कहा कि ट्रंप अमेरिका के हित में यह जानने के लिए पुतिन से मिल रहे हैं कि रूस हमारे संबंधों में तरक्की चाहता है या नहीं। ट्रंप को उम्मीद है कि इस भेंट से तनाव कम करने में मदद मिलेगी और सकारात्मक साझेदारी हो पाएगी। इससे दुनिया में शांति एवं सुरक्षा के हालात में सुधार आएगा।
3. व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स के मुताबिक दोनों नेता अमेरिका और रूस के बीच संबंधों के साथ ही राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दों पर चर्चा करेंगे।
4. इससे पहले ट्रंप ने पुतिन को मार्च में दोबारा निर्वाचित होने पर बधाई दी थी, जिसके बाद पुतिन और ट्रंप ने बैठक करने पर चर्चा की थी।
5. पुतिन के सलाहकार यूरी यूशाकोव ने मॉस्को में कहा था कि दोनों नेता किसी तीसरे देश में मुलाकात करेंगे और उसके बाद ही सम्मेलन के जगह और तारीख की घोषणा की गई।
6. इस सम्मेलन में राष्ट्रपतियों के बीच सीधी बातचीत होगी और इसकी समाप्ति संयुक्त संवाददाता सम्मेलन के साथ होगी। दोनों नेता एक संयुक्त बयान भी जारी कर सकते हैं।
अमेरिका: ट्रंप का विरोध कर रहे सांसद सहित 600 प्रदर्शनकारी गिरफ्तार
7.रूसी मीडिया के अनुसार पुतिन और बोल्टन ने विश्व में रणनीतिक स्थिरता, परमाणु हथियारों पर नियंत्रण तथा निरस्त्रीकरण डोजियर पर विचार विमर्श किया।
8. इसके अलावा दोनों ने सीरिया और यूक्रेन में हिंसा तथा उत्तर कोरिया, ईरान परमाणु समझौते पर भी चर्चा की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here