फेसबुक पर दिखा तेज प्रताप का बगावती तेवर, बाद में दी सफाई- अकाउंट हैक हुआ था

0
104

तेज प्रताप यादव के फेसबुक पेज पर सोमवार को अपनों के कारण परेशानी तथा राजनीति छोड़ने की बात लिखी गई। बाद में तेज प्रताप ने सफाई दी कि उनका अकाउंट हैक कर लिया गया था।
पटना । राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने फेसबुक पोस्‍ट में फिर धमकी दी है कि वे राजनीति छोड़ देंगे। उनके फेसबुक पेज पर लिखा गया कि वे अपने मम्मी-पापा को बहुत बार बता चुके हैं कि अफवाह फैलाकर उन्‍हें बदनाम कर छवि धूमिल की जा रही है। लेकिन मम्मी एक नहीं सुनती हैं और उल्टा उन्‍हें ही डांट देती हैं। इस कारण वे बहुत प्रेशर में रहते हैं। फेसबुक पोस्‍ट में आगे लिखा गया कि इतने प्रेशर में राजनीति हो सकती है क्या? यदि यही स्थिति बनी रही तो वे राजनीति नहीं करेंगे। तेज प्रताप यादव के फेसबुक पेज पर इस पोस्‍ट के बाद राजनीति गरमा गई। इसके बाद तेज प्रताप यादव ने बताया कि उनका अकाउंट हैक कर किसी ने यह पोस्‍ट डाल दिया था, जिसे अब डिलीट कर दिया गया है। उन्‍होंने इसे भाजपा की साजिश करार दिया। साथ ही कहा कि उनके परिवार व पार्टी में सबकुछ ठीक है। बाद में तेज प्रताप यादव ने नया फेसबुक पोस्‍ट डाला कि चाचा (नीतीश कुमार) ने भाजपा के साथ मिलकर उन्‍हें तोड़ने का कोशिश की। लिखा कि उनके फेसबुक पेज को हैक कर लिया लिया गया और एक पोस्ट कर उन्‍हें व उनके परिवार से तोड़ने का प्रयास किया गया। आगे उन्‍होंने लिखा, ”जनादेश के डकैतों, मेरा परिवार मेरी जान है। मेरा भाई मेरा बाजे है, कलेजे का टुकड़ा है मेरा भाई।”एक अन्‍य फेसबुक पोस्‍ट में तेज प्रताप यादव ने लिखा, ”आरएसएस और भाजपाई आइटी सेल द्वारा मेरा अकाउंट हैक कर हमारे परिवार के बारे में दुष्प्रचार किया जा रहा है। पहले भी मेरे पिता का फ़ेसबुक पेज आरएसएस के एक समर्थक द्वारा हैक किया गया था। वह हैकर काफी दिनों जेल में भी रहा था। पहले मेरे और अब मेरी मम्मी के बारे में गलत लिखा गया है। हमारे बढ़ते प्रभाव से विरोधी बौखलाकर निम्नस्तरीय राजनीति पर उतर आए हैं।”जैसा कि आप सभी को ज्ञात है कि कल मैं अपने विधान सभा क्षेत्र महुआ में टी-पार्टी के जरिये कार्यकर्ताओं की समस्या सुनकर उसे हल करने हेतु महुआ गया था । आपको सुनकर हैरानी होगी कि यहां सभी कार्यकर्ता सिर्फ-और-सिर्फ एक-ही समस्या लेकर आए। जानना चाहेंगे कि वो समस्या क्या थह? वो समस्या थी ओम प्रकाश यादव उर्फ़ भुट्टू एवं एमएलसी सुबोध राय की शिकायत। सभी कार्यकर्ताओं का कहना था कि हमें आप से कोई शिकायत नहीं। हम सभी जानते हैं कि आप बहुत अच्छे हैं। किन्तु ओम प्रकाश यादव एवं सुबोध राय आपके खिलाफ अफवाह उड़ाकर आपकी छवि को धूमिल कर रहे हैं। ये दोनों आपको पागल और सनकी बताते हैं। यहा तक कि अब तो ये लोग जोरू का गुलाम बताते हैं और कहते हैं कि तेज प्रताप तो नाम के विधायक हैं। तेज प्रताप को कुछ भी नहीं आता है। इसके साथ और भी ऐसे-ऐसे शब्द हैं जो मैं आपको नहीं बता सकता हूं। इन अफवाहों के कारण आपका क्षेत्र ख़राब हो रहा है। इसलिए इन दोनों आस्तीन के सांपों को अपने क्षेत्र से बाहर कीजिए। मैंने भी अपने कार्यकर्ताओं से यही कहा कि मैं भी अपने मम्मी-पापा को बहुत बार बता चुका हूं कि ओम प्रकाश यादव उर्फ भुट्टू एवं सुबोध राय मेरे बारे में अफवाह फैलाकर मुझे बदनाम कर मेरी छवि धूमिल कर रहे हैं, किंतु मेरी मम्मी एक नहीं सुनती है और उल्टा मुझे ही डांट सुनना पड़ता है। इसके कारण मैं बहुत ही प्रेशर में रहता हूं। अब आप ही बताएं कि इतना प्रेशर में राजनीति हो सकती है क्या? मुझमे अदम्य साहस एवं क्षमता है जिससे मैं इन कीड़े-मकौड़े को चुटकी में मसल सकता हूं। किन्तु मेरे पैर अपनों के कारण रुक जाते हैं। यदि यही स्थिति बनी रही तो मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि अब मैं राजनीति नहीं करूंगा। राजनीति वही लोग करेंगे जो मेरे छवि को धूमिल कर रहे हैं। अब ओम प्रकाश यादव उर्फ़ भुट्टू ही महुआ से चुनाव लड़ेगा और विधायक, फिर मंत्री बनेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here