राजनाथ, मामता के बाद अब नितिन गडकरी ने भी किया सुषमा स्वराज का सपोर्ट

0
101

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी लखनऊ के अलग-अलग धर्म के दंपति को पासपोर्ट जारी करने के संबंध में टि्वटर पर ट्रोल हुई विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के समर्थन में उतरे और उन्होंने कहा कि विदेश मंत्री का मंजूरी दिए जाने वाले दस्तावेजों से कोई संबंध नहीं है। गौरतलब है कि मोहम्मद अनस सिद्दीकी की पत्नी तन्वी सेठ को पासपोर्ट मिलने में मदद करने के लिए सुषमा ट्रोलर्स के निशाने पर आ गई थीं। एक अधिकारी ने शादी के बाद महिला को अपना नाम ना बदलने के लिए उसे कथित तौर पर प्रताड़ित किया था। जिस तरीके से टि्वटर पर विदेश मंत्री को ट्रोल किया गया उस पर नाखुशी जताते हुए गडकरी ने कहा कि लोगों को ज्यादा जिम्मेदार होने की जरूरत है। केंद्रीय परिवहन एवं जहाजरानी मंत्री ने यहां पत्रकारों से कहा कि जिस तरीके से सुषमा स्वराज को ट्रोल किया गया और उनके खिलाफ प्रोपैगैंडा फैलाया जा रहा है वह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। मेरी उनसे बातचीत हुई लेकिन जब पासपोर्ट जारी करने का फैसला लिया गया तो वह देश में नहीं थीं। उन्होंने कहा कि उनका इससे कोई संबंध नहीं है। वह उस समय वहां नहीं थी। उनके खिलाफ जिन शब्दों का इस्तेमाल किया गया वह लोगों को अच्छे नहीं लगे। मुझे लगता है कि हर किसी को सोशल मीडिया पर अधिक जिम्मेदारी से बर्ताव करना चाहिए। इससे पहले गृह मंत्री राजनाथ सिंह और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी सुषमा के सपोर्ट में आ चुके हैं। ममता बनर्जी ने सुषमा स्वराज को ट्रोल किये जाने में इस्तेमाल की गई भाषा की कड़े शब्दों में निंदा की थी और कहा था कि लोगों को किसी भी रूप में गाली-गलौज नहीं करनी चाहिये। वहीं राजनाथ सिंह ने सोशल मीडिया ट्रोलर्स को गलत करार दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here