मौसम अलर्ट: दिल्ली में पड़ी रिमझिम फुहारें, 14 राज्यों में आफत ला सकती है मूसलाधार बारिश

0
86

राजधानी दिल्ली के कई हिस्सों में सुबह रिमझिम फुहारें शुरू पड़ी, जिससे गर्मी से काफी यहां के लोगों को राहत मिली है। उधर, मौसम विभाग ने गोवा, कर्नाटक, गुजरात, पश्चिम बंगाल और बिहार सहित 14 राज्यों में मूसलाधार बारिश की चेतावनी जारी की है। विभाग द्वारा मंगलवार को जारी पूर्वानुमान के मुताबिक गोवा और कोंकण क्षेत्र में अगले 24 घंटों में अतिवृष्टि की चेतावनी जारी की गई है। जबकि इस अवधि में कर्नाटक के तटीय और दक्षिणी इलाकों, गुजरात, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, उड़ीसा और पूर्वोत्तर के सभी राज्यों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश की चेतावनी दी गयी है। मौसम विभाग ने इन इलाकों में आगामी छह जुलाई तक मानसून की सक्रियता के चलते मूसलाधार बारिश का दौर जारी रहने की संभावना से इंकार नहीं किया है। उत्तरी राज्यों हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू कश्मीर और पंजाब एवं हरियाणा के कुछ इलाकों में हल्की और तेज बारिश का दौर जारी है। राजधानी दिल्ली में मंगलवार को दिन भर बादल छाये रहने के बीच कुछ इलाकों में हल्की बारिश दर्ज किये जाने के बीच उमस भरी गर्मी बरकरार है। मौसम विभाग ने राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को बादल छाये रहने के बीच कुछ इलाकों में हल्की से तेज बारिश होने की संभावना जतायी है। उत्तराखंड में ज्यादातार स्थानों पर भारी वर्षा और कहीं—कहीं विशेषकर कुमाऊं क्षेत्र में भारी से बहुत भारी बारिश की चेतावनी के मद्देनजर पूरे प्रदेश में सरकारी मशीनरी को अलर्ट कर दिया गया है। वहीं, पिछले तीन दिन से पिथौरागढ़ के मुनस्यारी में हो रही लगातार बारिश के चलते अब तक दो व्यक्तियों की मौत हो चुकी है। राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार, पिथौरागढ़ के मुनस्यारी क्षेत्र के मदकोट में सोमवार को भारी बारिश के बाद हुए भूस्खलन के दौरान पत्थरों की चपेट में आकर खड्डे में गिर जाने से नारायणी देवी नामक महिला की मौत हो गयी तथा मुनस्यारी के ही हरकोट क्षेत्र में एक व्यक्ति किशन राम गोनमुनी नदी में बह गया। एक अन्य व्यक्ति के घायल होने की भी खबर है। पंजाब और हरियाणा के कई हिस्सों में मंगलवार को बारिश हुई जिससे लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि चंडीगढ़ में मंगलवार को सुबह हल्की बारिश हुई और पारा कुछ डिग्री तक गिर गया। हरियाणा में पंचकूला, अंबाला और यमुनानगर में बारिश हुई। पंजाब में मोहाली, रोपड़ और पटियाला में भी बारिश हुई। दक्षिण पश्चिम मानसून तय समय से एक दिन पहले 28 जून को ही चंडीगढ़ समेत पंजाब और हरियाणा में पहुंच गया था। यहां मौसम विभाग ने बुधवार तक दो राज्यों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। पाकिस्तान के लाहौर में भारी बारिश के कारण हुए हादसों में एक पुलिसकर्मी समेत सात लोगों की मौत हो गई है। यहां एक दिन में 238 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई, जिससे यहां का 38 साल का रिकॉर्ड टूट गया है। बचाव दल के अनुसार, पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की राजधानी में भारी बारिश के दौरान पांच लोगों की करंट लगने से मौत हो गई, जबकि दो अन्य की मौत इमारत गिरने के कारण हुई। ‘एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ ने बताया कि शहर के विभिन्न इलाकों में राहत और बचाव जारी है। पंजाब प्रांत के मुख्य मौसम विज्ञानी मुहम्मद रियाज ने मंगलवार को कहा, इस बारिश ने लाहौर में 38 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। यहां एक दिन में 238 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। अगले 24 घंटों में भी बारिश के जारी रहने की संभावना है। बारिश के कारण लाहौर के अनेक हिस्सों में पानी भर गया है। कई इलाकों में बिजली गुल है, क्योंकि 350 फीडर काम नहीं कर पा रहे हैं। पहली बार शहर के मशहूर लक्ष्मी चौक में बचावकार्य के लिए नौका सेवा शुरू की गई है। भारी बारिश ने लाहौर की निकासी प्रणाली की खामियों को भी उजागर कर दिया है। मौसम विभाग ने आगाह किया है कि यहां जुलाई में और ज्यादा बारिश होने की संभावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here