fifa world cup 2018: कोलंबिया बनाम इंग्लैंड और स्वीडन बनाम स्विट्जरलैंड, जानिए कौन सी टीम है किस पर भारी

0
46

प्री क्वॉर्टर फाइनल में कोलंबिया इंग्लैंड के तिलिस्म को तोड़ने उतरेगा। कोलंबियाई टीम इंग्लैंड से पांच मैच खेल चुकी है, लेकिन जीत से दूर ही रही। ऐसे में मंगलवार को होने वाले इस मैच में कड़ी टक्कर होने की उम्मीद है। वहीं पिछले 13 मुकाबलों में इंग्लैंड सिर्फ बेल्जियम से हारा है। ऐसे में कोलंबिया को इंग्लैंड को रोकने के लिए एड़ी-चोटी एक करनी होगी। दूसरा प्री क्वॉर्टर फाइनल स्विट्जरलैंड और स्वीडन के बीच होगा। इसमें भी कांटे की टक्कर होगी। स्वीडन 1994 के बाद प्री क्वॉर्टर से आगे नहीं बढ़ा। लिहाजा जीत दर्ज कर क्वॉर्टर फाइनल में जगह बनाना चाहेगा। स्विट्जरलैंड भी जीत दर्ज कर चौथी बार विश्वकप के क्वॉर्टर फाइनल में स्थान पक्का करने की कोशिश करेगा। इंग्लैंड ने कोलंबिया को 1998 के वर्ल्ड कप में 2-0 से मात दी थी, इसके बाद दोनों टीमों का आज विश्वकप का दूसरा मुकाबला होगा। आंकड़ों के लिहाज से कोलंबिया पर इंग्लैंड भारी पड़ता दिख रहा है। इस टीम से अबतक एक भी हार न होना इंग्लैंड को मानसिक रूप से मजबूती देगी। वहीं इंग्लैंड पिछले 13 मैचों में 1 हारा है। इसका भी लाभ टीम को मिल सकता है, लेकिन अपना पिछला मैच ही इंग्लैंड बेल्जियम से हारा है। जो उनके जेहन में जरूर होगा। फीफा रैंकिंग के लिहाज से भी इंग्लैंड कोलंबिया से बेहतर है। इंग्लैंड की रैंकिंग 12 और कोलंबिया की 16 है। कोलंबिया के पास सबसे अहम पहलू यह है कि सितंबर 2017 से इस टीम ने क्वॉलिफाइंग वर्ल्ड कप और दोस्ताना मैचों में ब्राज़ील, पेरू से ड्रा खेला, चीन को 4-0 से शिकस्त दी। विश्वविजेता फ्रांस को 3-2 से हराया। पिछले 9 मैचों में कोलंबिया को 5 ड्रॉ, 2 जीत और इतनी ही हार मिली। वहीं कोलंबिया इंग्लैंड को हराकर इंग्लैंड के 5 मैचों की जीत का तिलिस्म भी तोड़ना चाहेगा। ताकि वो दूसरी बार विश्वकप के क्वॉर्टर फाइनल में प्रवेश कर जाए। वहीं विश्वविजेता रहा इंग्लैंड कोलंबिया पर अपनी छठी और विश्वकप की दूसरी जीत दर्ज कर क्वार्टर फाइनल तक का सफर तय करना चाहेगा। स्वीडन 24 साल बाद क्वॉर्टर फाइनल में प्रवेश करने की उम्मीद के साथ आज ग्राउंड पर उतरेगा। 1994 में स्वीडन को तीसरा स्थान मिला था। इसके बाद क्वॉर्टर फाइनल में प्रवेश नहीं मिला है। वहीं स्विट्ज़रलैंड जीत दर्ज कर चौथी बार विश्वकप क्वॉर्टर फाइनल में जगह बनाना चाहेगा। दोनों देशों का पहला विश्वकप मुकाबला होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here