RJD का स्‍थापना दिवस समारोह, साथ-साथ पहुंचे तेजस्वी और तेजप्रताप

0
269

राजद का 22वां स्‍थापना दिवस समारोह आज पहली बार लालू प्रसाद के बिना हो रहा है। समारोह में तेजस्वी तेजप्रताप एक साथ एक ही गाड़ी से पहुंचे। समारोह में पार्टी के वरिष्ठ नेता मौजूद हैं।
पटना । राष्‍ट्रीय जनता दल (राजद) आज 21 साल का हो गया है। पार्टी आज अपना 22वां स्‍थापना दिवस मना रही है। खास बात यह है कि 1997 में पार्टी की स्थापना के बाद से यह पहला मौका है, जब राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव इसमें शिरकत नहीं कर रहे हैं। स्थापना दिवस समारोह में तेजस्वी और तेजप्रताप एक साथ पहुंचे और दोनों ने मिलकर समारोह का उद्घाटन किया। प्रत्येक वर्ष की तरह इस बार भी मुख्य कार्यक्रम पटना स्थित पार्टी के प्रदेश कार्यालय में हो रहा है। समारोह में तेजस्वी-तेजप्रताप एक साथ पहुंचे और समारोह का उद्घाटन किया। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह, पूर्व सांसद जगदानंद सिंह, शिवानंद तिवारी, कांति सिंह, सांसद जयप्रकाश नारायण यादव, बुलो मंडल समेत कई वरिष्ठ नेता एवं पदाधिकारी ने राजद के स्थापना दिवस में शिरकत की। समारोह का उद्घाटन करने के बाद तेज प्रताप काफी खुश नजर आए और तेजस्वी के साथ हाथ में हाथ मिलाकर पार्टी की एकता का एेलान किया। बता दें कि तेज प्रताप यादव के सोशल मीडिया पोस्‍ट्स पर विश्‍वास करें तो वे इन दिनों परिवार व पार्टी से नाराज चल रहे हैं। पार्टी ने समारोह को लेकर जो संदेश जारी किया, उसमें तेज प्रताप यादव का नाम नहीं होने को पार्टी में उन्‍हें साइड किए जाने की कोशिश के रूप में देखा गया। इसे लेकर भाजपा व जदयू ने जमकर हमले भी किए। हालांकि, राजद ने तेज प्रताप को पार्टी का अहम नेता बताते हुए बचाव किया। तेज प्रताप यादव ने भी बीती रात समारोह स्‍थल पर तैयारियों का निरीक्षण किया। लालू प्रसाद यादव ने जनता दल से अलग होकर 5 जुलाई 1997 को राष्ट्रीय जनता दल का गठन किया था। पार्टी के स्‍थापना दिवस समारोह में पहली बार लालू प्रसाद यादव शामिल नहीं होंगे। चारा घोटाला में सजा पाए लालू इन दिनों जमानत पर रिहा होकर मुंबई में इलाज करा रहे हैं। राजद प्रवक्ता और विधायक शक्ति सिंह यादव ने माना कि समारोह में उनकी कमी खलेगी। स्थापना दिवस पर पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं को लालू के संबोधन का इंजतार रहता था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.