जम्मू-कश्मीर: आईपीएस का भाई बना आतंकी, हिजबुल मुजाहिदीन ने जारी की तस्वीर

0
34

हिजबुल मुजाहिदीन ने भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के एक अधिकारी के भाई की एक तस्वीर रविवार को जारी की, जो इस आतंकी संगठन में शामिल हो गया है। शमसुल हक मेंगनू तस्वीर में एक एके-47 राइफल लिए हुए हैं। उसकी तस्वीर फेसबुक, ट्विटर जैसे सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। कश्मीर में शोपियां जिले का रहने वाला शमसुल श्रीनगर के पास के एक सरकारी मेडिकल कालेज में बीयूएमएस (बैचलर ऑफ यूनानी मेडिसन एंड सर्जरी) का छात्र था। हिजबुल ने अपने इस नए रंगरूट को कोड नाम ‘बुरहान सानी’ या बुरहान द्वितीय दिया है। बुरहान की बरसी पर हिजबुल ने कई और आतंकियों की तस्वीरें भी जारी की हैं। बताया जा रहा है कि शमसुल 25 मई 2018 को हिजबुल में शामिल हुआ था। वह अचानक मई में गायब हो गया। उसके लापता होने का मामला भी दर्ज किया गया था। जम्मू कश्मीर पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि तस्वीर की वास्तविकता का पता लगाया जा रहा है। मेंगनू के बड़े भाई इनामुल हक 2012 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं, जो इन दिनों पूर्वोत्तर राज्य असम में तैनात हैं। बताया जा रहा है कि पिछले आठ महीने में 50 से अधिक युवा आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन में भर्ती हुए हैं। तहरीक-ए-हुर्रियत के अध्यक्ष के पुत्र, अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के स्कॉलर और कश्मीर विश्वविद्यालय के प्रोफेसर समेत कई युवक घाटी में विशेषकर दक्षिण कश्मीर के आतंकी संगठनों में शामिल हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here