जस्टिस शरण समेत चार जज सुप्रीम कोर्ट के लिए शॉर्टलिस्ट

0
48

सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम ने चार मुख्य न्यायाधीशों को सुप्रीम कोर्ट में प्रोन्नत करने के लिए शॉर्ट लिस्ट कर लिया गया है। अगले गुरुवार होने वाली बैठक में इनके नामों की औपचारिक रूप से संस्तुति कर दी जाएगी, जिसके बाद उन्हें केंद्र सरकार को भेज दिया जाएगा। सूत्रों के अनुसार, इन चार नामों में एक ओडिशा हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस विनीत शरण उत्तर प्रदेश से, मद्रास हाईकोर्ट की मुख्य न्यायाधीश जस्टिस इंदिरा बनर्जी पश्चिम बंगाल से, एक जज गुजरात हाईकोर्ट से और एक जज मध्यप्रदेश से हैं। सुप्रीम कोर्ट में बंगाल और गुजरात से कोई जज नहीं हैं। वहीं, उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व बढ़ाने के लिए जस्टिस शरण को लाया जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट में फिलहाल नौ रिक्तियां हैं, जिन्हें कोर्ट क्षेत्रीय प्रतिनिधित्व के हिसाब से भरना चाह रहा है। सूत्रों के अनुसार उत्तराखंड हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस केएम जोसेफ के नाम को भेजने पर कोलेजियम में पूर्ण सहमति है। लेकिन, उनका नाम अलग से भेजा जाएगा। पहले उनका नाम सुप्रीम कोर्ट आने वाले अन्य जजों के साथ भेजने पर सहमति बनी थी, लेकिन बाद में यह फैसला हुआ कि उनका नाम अलग से भेजा जाए। क्योंकि यदि उनका नाम ताजा सिफारिशों के साथ भेजा गया तो केंद्र सरकार उनका नाम लौटा सकती है। क्योंकि पूरे लॉट को वह ताजा सिफारिशों के रूप में लेगी। समझा जाता है कि इस बारे में कोलेजियम के एक जज ने ही सलाह दी कि जस्टिस जोसेफ का नाम अलग से लंबित मामले के रूप में भेजा जाए। सामान्यतया कोलेजियम यदि सरकार को अपनी सिफारिशें दोहराती है तो सरकार उसे मानने के लिए बाध्य होती है। सरकार ने अप्रैल में जस्टिस जोसेफ का नाम कोलेजियम को पुनर्विचार के लिए वापस भेज दिया था। सरकार ने कहा कि जोसेफ काफी जूनियर हैं और क्षेत्रीय प्रतिनिधित्व के हिसाब से उन्हें सुप्रीम कोर्ट लाना उचित नहीं है। जोसेफ केरल से हैं और केरल से सुप्रीम कोर्ट में कुरियन जोसेफ पहले से ही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here