जानिए आखिर क्यों फ्रांस से हारने के बाद बेल्जियम में बजा फ्रांस का राष्ट्रगान

0
24

रूस में आयोजित फीफा वर्ल्ड कप में बेल्जियम का शानदार सफर सेमीफाइनल में मिला हार के साथ खत्म हो गया। टीम को फ्रांस के खिलाफ सेमीफाइनल में 1-0 से हार का सामना करना पड़ा। गोल्डन जेनरेशन टीम को मिली इस हार से पूरे बेल्जियम देश में जैसे शोक की लहर दौड़ गई। लोगों का दर्द उस समय और बढ़ गया जब सुबह-सुबह उन्हें मेट्रो सफर के दौरान उस देश का राष्ट्रगान सुनना पड़ा जिस देश ने उसके देश का बाहर का रास्ता दिखायाबेल्जियम मेट्रो ने हारी शर्तफ्रांस के राष्ट्रगान ‘टूस इंसेंबल’ को सुबह 8 से 10 बजे के बीच बजाया गया। बता दें कि यह फैसला इसलिए लिया गया था क्योंकि बेल्जियम मेट्रो कॉरपोरेशन ने पेरिस मेट्रो के साथ बेल्जियम और फ्रांस के बीच फीफा वर्ल्ड कप सेमीफाइनल मैच से पहले एक अनोखी शर्त लगाई थी। शर्त के अनुसार अगर फ्रांस जीतेगा तो ब्रुसेल्स मेट्रो को फ्रांस का राष्ट्रगान अपनी मेट्रो में बजाना होगा वहीं अगर बेल्जियम जीतता तो पेरिस में सेंट लेजारे स्टेशन के नाम के बोर्ड को बदलकर बेल्जियम के स्टार मिडफील्डर ईडन हेजार्ड के सम्मान पर ‘सेंट हेजार्ड’ करना पड़ता। पीटर्सबर्ग स्टेडियम में खेला गया था, जिसमें डिफेंडर सैमुअल उमटिटी के गोल की बदौलत फ्रांस ने रोमांचक मैच में बेल्जियम को 1-0 से हराकर तीसरी बार फीफा वर्ल्ड कप फाइनल में जगह बनाई। मैच का इकलौता गोल उमटिटी ने 51वें मिनट में हेडर के जरिए किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here