दिल की सेहत सुधारने में मददगार नहीं मल्टीविटामिन

0
50

आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में हमारे खानपान में अक्सर पोषण की कमी रह जाती है। इसलिए विशेषज्ञ अक्सर मल्टीविटामिन का सप्लीमेंट लेने की सलाह देते हैं। अमेरिका की यूनीवर्सिटी ऑफ अलबामा में हुए एक अध्ययन में कहा गया है कि मल्टीविटामिन के सप्लिमेंट लेने वालों के दिल की सेहत पर इससे कोई खास फर्क नहीं पड़ता है। इस अध्ययन के लिए 12 साल तक 2000 लोगों के आंकड़े इकट्ठा कर उनका आकलन किया गया। विशेषज्ञों का कहना है कि मल्टीविटामिन का सप्लिमेंट लेने वालों को बेहद सामान्य फायदे तो मिलते हैं, मगर हृदय संबंधी परेशानियों में कोई आराम नहीं मिलता है। प्रमुख शोधकर्ता जूनसेओक किम ने शंका जताई कि मल्टीविटामिन लेने वाले लोगों में दिल की बीमारियों का खतरा यह गोलियां नहीं लेने वालों के मुकाबले अधिक होता है। किम का कहना है कि जो लोग सप्लिमेंट्स लेते हैं, वह दिल की सेहत सुधारने के लिए उठाए जाने वाले अन्य कदमों की तरफ ध्यान हीं नहीं देते हैं। मल्टीविटामिन लेने से वह दिल की सेहत के प्रति निश्चिंत हो जाते हैं और व्यायाम या खानपान और लाइफस्टाइल में बदलाव जैसे कदम नहीं उठाते हैं। इसका असर उनकी सेहत पर काफी बुरा होता है। यह अध्ययन अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन की पत्रिका सर्कुलेशन में प्रकाशित 18 शोध का आकलन है। संस्थान के चीफ मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर एडुराडो सांचेज का कहना है कि यह अध्ययन मल्टीविटामिन सप्लिमेंट पर ज्यादा भरोसा करने वाले सभी लोगों की आंखें खोलने वाला है। अच्छी सेहत सिर्फ मल्टीविटामिन सप्लिमेंट से नहीं मिल जाती है, उसके लिए अच्छा खानपान, व्यायाम, फल, सब्जियां और अन्य पोषक तत्वों से भरपूर चीजें खानी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here