पाकिस्तान के वजीर ए आजम रहे नवाज और बेटी मरियम के आए बुरे दिन, जेल में तरसेंगे सुविधाओं के लिए

0
17

अगर पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ अनुरोध करते हैं तो पूर्व सांसद होने के नाते उन्हें बेहतर श्रेणी वर्ग की जेल में भेजा जा सकता है। हालांकि उनकी बेटी मरियम नवाज को यह सुविधा केवल तब मिलेगी जब वह साबित करेंगी कि उन्होंने सालाना आयकर के रूप में कम से कम छह लाख रुपये का भुगतान किया है। पाकिस्तान की एक अदालत ने एवेनफील्ड अपार्टमेंट मामले में शरीफ और मरियम को दोषी ठहराया था और उन्हें क्रमश : दस और सात साल के कारावास की सजा सुनायी गई थी। पिता-पुत्री को शुक्रवार को लंदन से लाहौर हवाई अड्डे लौटने पर गिरफ्तार किया जायेगा। वे दोनों लंदन में गले के कैंसर से पीड़ित और दिल का दौरा पड़ने से 14 जून से वेंटिलेटर पर मौजूद शरीफ की पत्नी कुलसूम नवाज की देखभाल कर रहे हैं। डान ने अधिकारियों के हवाले से यह खबर दी है। उन्हें बेहतर श्रेणी की जेल के लिये अनुरोध वाला आवेदन देना होगा क्योंकि यह उन पर स्वत : लागू नहीं होगा। इसके अलावा , जेल में एयरकंडीशनर या फ्रिज नहीं होगा। अखबार ने गृह विभाग के एक अधिकारी के हवाले से कहा कि कानून के तहत परिवार को यही मिल सकता है। एक आधिकारिक सूत्र के हवाले से कहा गया कि शरीफ के दामाद कैप्टन (सेवानिवृत्त) मुहम्मद सफदर भी आवेदन सौंपकर बेहतर श्रेणी की जेल मांग सकते हैं। उन्होंने कल शाम तक लिखित में इसके लिये आवेदन नहीं किया है और इसलिये उन्हें उस श्रेणी की जेल नहीं दी जा रही है। कुछ वर्ष पहले लाहौर उच्च न्यायालय के निर्देश पर पंजाब जेल नियमों में संशोधन के जरिये जेलों का वर्गीकरण बेहतर श्रेणी और सामान्य श्रेणी में किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here