FIFA WC: इंग्लैंड का सपना चूर-चूर, 2-1 की ऐतिहासिक जीत के साथ पहली बार फाइनल में पहुंचा क्रोएशिया

0
55

रोंगटे खड़े कर देने वाले फीफा वर्ल्ड कप के दूसरे सेमीफाइनल मैच में क्रोएशिया ने इतिहास रचते हुए फुटबॉल के महाकुंभ में पहली बार फाइनल में प्रवेश कर लिया। क्रोएशिया ने इंग्लैंड को एक्सट्रा टाइम तक चले मैच में 2-1 से मात देकर दूसरी बार चैंपियन बनने का उनका सपना धाराशाही कर दिया। क्रोएशिया अब अपने पहले वर्ल्ड कप फाइनल में 15 जुलाई को फ्रांस से खिताबी मुकाबला करेगा। क्रोएशिया के लिए मारियो मानजुकिच ने एक्सट्रा टाइम में टीम के इतिहास का शायद सबसे बड़ा गोल दागकर क्रोएशिया को फीफा वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में पहुंचा दिया। 90 मिनट के बाद मैच 1-1 से बराबर था जिसके बाद मानजुकिच ने अतिरिक्त समय के दूसरे हाफ में 109वें मिनट में गोल दागा। इससे पहले इंग्लैंड के लिए किरेन ट्रिपियर ने पांचवें मिनट में ही दमदार फ्री किक पर गोलकीपर डेनियल सुबेसिच को छकाते हुए इंग्लैंड को 1-0 से आगे कर दिया था। लेकिन इवान पेरिसिच (68वें मिनट) ने क्रोएशिया को दूसरे हाफ में बराबरी दिला दी। विश्व कप सेमीफाइनल में 18 मौकों में यह सिर्फ दूसरी बार है जब हाफ टाइम तक बढ़त बनाने वाली टीम को हार का सामना करना पड़ा है। इससे पहले 1990 में इटली की टीम अर्जेंटीना के खिलाफ बढ़त बनाने के बावजूद पेनल्टी शूटआउट में हार गई थी। इसके साथ ही इंग्लैंड की टीम का पांच से अधिक दशक बाद दूसरी बार फाइनल में जगह बनाने का सपना भी टूट गया। इंग्लैंड ने पहली और एकमात्र बार 1966 में फाइनल में जगह बनाई थी और तब अपनी सरजमीं पर खिताब जीतने में सफल रहा था। विश्व कप कप हतिहास में सिर्फ दूसरी बार सेमीफाइनल में खेल रही क्रोएशिया की टीम इससे पहले फ्रांस में 1998 में सेमीफाइनल में पहुंची थी और तब उसे मेजबान टीम के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा।
इंग्लैंड की टीम अब तीसरे स्थान के प्ले आफ में 14 जुलाई को सेंट पीटर्सबर्ग में बेल्जियम से भिड़ेगी। फाइनल इसके अगले इसी यहां लुजनिकी स्टेडियम में ही खेला जाएगा। इंग्लैंड की टीम जहां पहले हाफ में हावी रही वहीं दूसरे हाफ में क्रोएशिया का दबदबा देखने को मिला। मैच के दौरान हालांकि कई बार दोनों टीमों के खिलाड़ियों को आपस में भिड़ते देखा गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here