ट्रंप और पुतिन की पहली शिखर वार्ता, 16 जुलाई को क्रेमलिन में मिलेंगे दोनों नेता

0
21

रूसी सरकार के मुख्यालय क्रेमलिन के प्रवक्ता ने आज कहा कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अगले हफ्ते हेलसिंकी में अपनी शिखर वार्ता के बाद पत्रकारों को संबोधित करेंगे। हालांकि अभी साफ नहीं है कि दोनों नेता संयुक्त बयान जारी करेंगे कि या नहीं। क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने आगामी 16 जुलाई को पुतिन और ट्रंप के बीच होने जा रही पहली शिखर वार्ता का जिक्र करते हुए कहा, ”दोनों राष्ट्रपति संयुक्त संवाददाता सम्मेलन करेंगे। उन्होंने कहा, ”और ऐसी बैठकों के बाद संयुक्त बयान जारी हो यह जरूरी नहीं। शिखर वार्ता के नतीजे के आधार पर राष्ट्रपति बयान जारी करेंगे। रूसी अखबार कौमरसेंट ने इस हफ्ते की शुरुआत में कहा कि अमेरिका और रूस दोनों नेताओं, राजनयिकों, सैन्य एवं सुरक्षा सेवाओं सहित कई अन्य चीजों के बीच संवाद कायम करने की अहमियत पर दो पन्नों का एक संयुक्त बयान तैयार कर रहे हैं। अखबार ने अज्ञात अमेरिकी अधिकारियों के हवाले से लिखा था कि वॉशिंगटन 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में मॉस्को की कथित दखलंदाजी को लेकर अपनी चिंताएं दस्तावेजों में दर्शाना चाहता है। कौमरसेंट ने कहा था कि वॉशिंगटन यह भी चाहता है कि रूस बयान या किसी अलग दस्तावेज में यह गारंटी जाहिर करे कि रूस भविष्य में होने वाले अमेरिकी चुनावों में कोई दखल नहीं देगा। मॉस्को ने बार-बार कहा है कि उसने अमेरिकी चुनावों में कभी दखल नहीं दिया। अमेरिका में मध्यावधि चुनाव नवंबर में होने हैं। ट्रंप की ब्रिटेन यात्रा के बाद पुतिन और ट्रंप की शिखर वार्ता होने जा रही है। ट्रंप ने ब्रिटेन में वहां की प्रधानमंत्री टेरीजा मे की ब्रेग्जिट रणनीति की आलोचना की है। ब्रसेल्स में ट्रंप ने रक्षा खर्च के स्तर को लेकर अपने नाटो सहयोगियों को लताड़ लगाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here