डॉ.हाथी के अंतिम संस्कार में हुआ कुछ ऐसा कि गुस्से में आ गईं ‘बबीता’

0
171

टीवी का पॉपुलर कॉमेडी सीरियल ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में डॉ.हाथी का किरदार निभाने वाले कवि कुमार आजाद के निधन से सभी सदमे में हैं। आजाद की को-स्टार मुनमुन दत्ता ने अंतिम संस्कार के वक्त मौजूदा कुछ लोगों की हरकतों पर गुस्सा जाहिर करते हुए अपनी बात रखी है। उन्होंने सोशल मीडिया पर ऐसे लोगों को लताड़ लगाते हुए कुछ पोस्ट शेयर किए हैं। मुनमुन ने लिखा, ‘लोगों के बिहेवियर से मैं बहुत दुखी हूं। जब हमने डॉ.हाथी को अंतिम विदाई दी थी। अंतिम संस्कार से पहले लोग सेल्फी ले रहे थे, हमारे फेस पर फोन की लाइट मार रहे थे और वीडियो बना रहे थे। चाहे वो अंकल हो आंटी हो या यंग लोग। ये सब बेहूदा है। ये दिखाता है कि लोगों के दिल में जरा भी दूसरों के लिए इज्जत नहीं है। ऐसे माहौल में भी लोग सेल्फी खींच रहे थे।’मुनमुन ने आगे लिखा, ‘भीड़ में 2 लोग मेरे फेस पर मोबाइल की लाइट मार रहे थे। मैं उन पर चिल्लाई भी। तब मैंने देखा कि सामने वाली बिल्डिंग के लोग हंस रहे हैं। मैंने उनके चेहरे पर जीरो रिस्पेक्ट देखी। इसके बाद मैं तुरंत ही उस जगह से लौट गई।इससे पहले कि ये दूसरे लोगों के लिए तमाशा बनता।’शो के प्रोड्यूसर असित कुमार मोदी ने एक अंग्रेजी वेबसाइट से बात करते हुए आजाद को लेकर बड़े खुलासे किए हैं। खबरों के मुताबिक, असित कुमार मोदी ने कहा, ‘साल 2009 में भी आजाद की तबीयत खराब हो गई थी। तब भी उनकी जान जाते-जाते बची थी। उस समय उन्होंने वादा किया था कि वो अपना ख्याल रखेंगे और कभी शादी नहीं करेंगे। तारक मेहता का शो ही उनके लिए परिवार की तरह था।’रिपोर्ट्स के मुताबिक, ‘8 साल पहले वो वो सेट पर बेहोश हो गए थे और वेंटिलेटर पर पहुंच गए थे। तब भी वो मौत को मात देकर वापस आए थे। वो सेट पर बेहोश हो गए थे और वेंटिलेटर पर पहुंच गए थे।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here