मोदी-नवाज ‘दोस्ती’ पर भारत और पाकिस्तान में राजनीति, कांग्रेस ने कसा तंज तो BJP ने किया पलटवार

0
107

कांग्रेस ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नवाज शरीफ से ‘दोस्ती’ को लेकर तंज कसा है। पाकिस्तान के निष्कासित प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम को भ्रष्टाचार मामले में शुक्रवार को गिरफ्तार करके जेल भेजा गया है। कांग्रेस ने मोदी और नवाज शरीफ की एक तस्वीर (जिसमें दोनों ने एक दूसरे के हाथ पकड़े हुए हैं) ट्वीट करते हुए लिखा है, ‘नवाज शरीफ को भ्रष्टाचार के मामले में गिरफ्तार किया गया है। हम जानना चाहते हैं कि उनके अच्छे दोस्त पीएम मोदी इस मामले पर क्या कहते हैं।’ यह तस्वीर पीएम मोदी की दिसंबर 2015 में पाकिस्तान यात्रा की है। पीएम मोदी अफगानिस्तान से लौटते वक्त नवाज शरीफ को जन्मदिन की बधाई देने लाहौर चले गए थे। यह पीएम मोदी की पहली पाकिस्तान यात्रा थी। कांग्रेस के इस ट्वीट पर भारतीय जनता पार्टी ने तुरंत जवाब दिया। भाजपा ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘प्रधानमंत्री जी क्या देश का हर आदमी इस पर यही कह रहा है कि…भारत में भी जो नेता बेल पर घूम रहे हैं, उन्हें भी जेल में जाना ही है!’इस ट्वीट को सुनंदा पुष्कर मामले में कांग्रेस सांसद शशि थरूर को अग्रिम जमानत मिलने के नजरिए से देखा जा रहा है। मोदी ने खुद राजस्थान में एक रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस को ‘बेल गाड़ी’ बताया था। मोदी ने कहा था, ‘कुछ लोग कांग्रेस को ‘बेल गाड़ी’ कहकर पुकार रहे हैं, यह बैलगाड़ी नहीं। क्योंकि इस पार्टी के कई बड़े नेता और पूर्व मंत्री जमानत पर बाहर टहल रहे हैं।’इसके अलावा पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ(पीटीआई) के प्रमुख इमरान खान ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ‘दोस्ती’ पर तंज कसा है और दोनों पर देश में कानून-व्यवस्था की स्थिति और सीमा पर तनाव पैदा करके पीएमएल-एन के पक्ष में माहौल बनाने का आरोप लगाया। खान ने ट्वीट किया, ‘यह जान के आश्चर्य होता है कि जब भी नवाज शरीफ समस्या में होते हैं, पाकिस्तान सीमा पर तनाव बढ़ जाता है और आतंकवादी गतिविधियां बढ़ जाती हैं। क्या यह महज संयोग है?’ खान का ट्वीट ‘मोदी का जो यार है, गद्दार है, गद्दार है’ नारे पर आधारित है, जो पीटीआई के कार्यकर्ता और समर्थक अपने जनसभाओं में दोहराते हैं। शरीफ और उनकी बेटी मरियम को अबू धाबी से शुक्रवार रात पाकिस्तान पहुंचने पर हिरासत में ले लिया गया था। दोनों को जवाबदेही अदालत द्वारा एवेनफील्ड भ्रष्टाचार मामले में दोषी ठहराया गया है। नवाज को 10 साल और मरियन को सात साल की सजा सुनाई गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here