नैनो की जगह लेंगी मारुति की ये छोटी और सस्ती कार

0
3109

देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया एंट्री लेवर कार (छोटी और सस्ती) लेकर आ रही है। इस कार में 800 सीसी और 1,000 सीसी के बीच का पेट्रोल इंजन लगा होगा और यह सभी सुरक्षा और उत्सर्जन मानको को पूरा करेगी। सूत्रों के अनुसार इस कार को कंपनी की नव निर्मित अनुसंधान और विकास सुविधा केंद्र रोहतक में विकसित किया जा रहा है। कंपनी ने इस कार को वाई1कोड दिया गया है। भारतीय सड़कों पर इस कार को 2020 तक दौड़ने की उम्मीद है। इस मामले की जानकारी रखने वाले दो सूत्रों ने बताया कि यह कार साइज और कीमत को लेकर भारत के एंट्री लेवल कार बाजार में नया बेंचमार्क स्थापित करेगी। ऐसा इसलिए की जुलाई 2019 से देश में सुरक्षा और उत्सर्जन के सख्त नियम लागू हो रहे हैं। इसके बाद कार का साइज और कीमत दोनों बढ़ जाएंगे। ऐसे में कीमत को कम रखना बड़ी चुनौती होगा। मारुति की नई एंट्री लेवल कार उस वक्त पेश कर रही है जब उसकी छोटी कारों का बाजार हिस्सा घट रहा है। कुल यात्री वाहनों की बिक्री में अल्टो और इयोन जैसी छोटी कारों का हिस्सा 31 मार्च 2018 को समाप्त वित्त वर्ष में 18 फीसदी रह गया। हालांकि मारुति सुजुकी के प्रवक्ता ने भविष्य के उत्पादों और प्रौद्योगिकी पर टिप्पणी करने से इंकार कर दिया। मारुति ने सबसे पहले 1983 में भारतीय सड़कों पर मारुति 800 को लेकर आई। भारतीय कार बाजार में यह कार क्रांति लाने का काम किया। लाखों मध्यमवर्गीय परिवारों का कार की सवारी करने का सपना पूरा किया। देखते-देखते यह कार हर भारतीय की पहचान बन गई। बदलते दौर में मारुति 800 की मांग कम हुई तो कंपनी ने 2014 में इसका उत्पादन बंद कर दिया। इसके बार कंपनी ने 2000 में ऑल्टो पेश की। यह कार भी 2004 तक सबसे ज्यादा बिकने वाली कार रही।
ये कंपनियां भी ला रहीं छोटी कार
हुंडई की नई सेंट्रो
फॉक्सवैगन की नई पोलो
डैटसन गो-क्रॉस
टाटा पिक्सेल
रेनॉल्ट क्विड रेसर संस्करण
होंडा ब्रियो फेसलिफ्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.