बिहार कैबिनेट का बड़ा फैसला- रेप या तेजाब पीड़िताओं को अब मिलेंगे सात लाख रुपये

0
90

बिहार कैबिनेट की आज की बैठक में कुल चार एजेंडों पर मुहर लगाई गई। जिनमें एसिड अटैक और रेप की शिकार युवतियों को दी जाने वाली मुआवजे की राशि तीन लाख से बढ़ाकर सात लाख की गई है।
पटना । मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में बिहार कैबिनेट की बैठक में कुल चार महत्त्वपूर्ण एजेंडों पर मुहर लगाई गई। जिनमें बिहार में एसिड अटैक और रेप की शिकार युवतियों को अब मुआवजे की राशि तीन लाख नहीं बल्कि सात लाख रुपये मिलेगी। अगर पीड़िता की उम्र 14 साल से कम होगी तो एेसे में मुआवजे की राशि 50 फीसदी ज्यादा हो जाएगी। बिहार पीड़ित प्रतिकार संशोधन स्कीम 2018 के तहत कैबिनेट ने ये फैसला लिया है। बिहार पीड़ित प्रतिकार स्कीम 2018 के तहत तेजाब हमला, बलात्कार, शारीरिक शोषण, मानव व्यापर के पीड़ितों का पुनर्वास, यौन हमला के पीड़ितों के मुआवजे में वृद्धि का प्रस्ताव भी पारित किया गया। इसके लिए अब जिला स्तर पर निधि का गठन होगा। कैबिनेट के विशेष सचिव यूएन पांडेय ने बताया कि अगर कोई महिला तेजाब हमले में आंख की रोशनी खो चुकी हो और उसके चेहरे का अस्सी प्रतिशत हिस्सा जख्मी हो तो ऐसी स्थिति में जिला अपराध पीड़ित क्षति प्रतिकर बोर्ड उक्त महिला को हर महीने 10000 की राशि जब तक चाहे तब तक स्वीकृत कर सकता है। अन्य एजेंडे जिन पर आज की कैबिनेट बैठक में मुहर लगी, वो रहे-जहानाबाद के कुष्ठ नियंत्रण इकाई के डॉक्टर रेहान अशरफ को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया। जल संसाधन विभाग के 40 जूनियर इंजीनियरों की सेवा विस्तार किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here