तेजस्वी हुए नाराज, पूछा -सुशील मोदी जी, लालू यादव की जान लेंगे क्या

0
54

सुशील मोदी ने राजनेताओं से मुलाकात और राजनीतिक गतिविधियों में भाग लेने का आरोप लगाते हुए लालू की जमानत रद करने की मांग की थी। इसपर तेजस्वी ने नाराजगी जाहिर की है।
पटना । राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से तेलुगुदेशम पार्टी के सांसदों की मुलाकात पर सुशील मोदी ने लालू की जमानत अर्जी रद करने की मां की थी। उनकी इस मांग पर नाराजगी जाहिर करते हुए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सुशील मोदी से पूछा है कि क्या आप डॉक्टर हैं? आप यदि अस्पताल की रिपोर्ट पढ़ सकते हैं तो मुंबई एशियन हॉस्पिटल की रिपोर्ट आकर पढ़िए। तेजस्वी ने पूछा कि क्यों आप लालू यादव की जान के पीछे पड़े हैं। तेजस्वी ने कहा कि सुशील मोदी नहीं चाहते कि लालू यादव जल्दी स्वस्थ हों। दरअसल, लालू यादव से सुशील मोदी को डर लगता है, इसीलिए उटपटांग बयानबाजी करते हैं। उन्हें आकर लालू जी की हालत देखनी चाहिए और फिर माफी मांगनी चाहिए। इस तरह की नकारात्मक राजनीति नहीं करनी चाहिए। तेजस्वी ने कहा कि टीडीपी के सांसद लालू जी का स्वास्थ्य पूछने आए थे। चंद्रबाबू नायडू को लालू जी के स्वास्थ्य की चिंता है और वो जब खुद नहीं आ पाए तो अपने सांसदों को भेजा। लेकिन जो लोग लालू जी के साथ रहे वो लोग एक बार भी नहीं देखने आए। बल्कि लालूजी की जमानत रद कराने की बात कह रहे हैं। चंद्रबाबू नायडू ने मुझसे भी संपर्क किया था। दरअसल, बुधवार को उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मांग की थी कि केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) राजनीतिक मुलाकातें करने वाले राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव की जमानत रद कराये। सुशील मोदी ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर आरोप लगाया कि चारा घोटाला के चार मामलों में सजायाफ्ता लालू को राजनीतिक कार्यों से अलग रहने की शर्त पर केवल इलाज के लिए जमानत मिली थी, लेकिन वह लगातार शर्तों का उल्लंघन कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि राजद प्रमुख ने पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत से बात की और उसके बाद तेलुगू देशम पार्टी के तीन सांसदों ने उनसे मुलाकात कर राजनीतिक चर्चाएं की। इस आधार पर सीबीआई को लालू की जमानत तत्काल रद करानी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here