विश्वासमत पर शिवसेना ने बनाया सस्पेंस लेकिन बीजेपी को है पूरा भरोसा

0
81

बीजेपी के नेतृत्ववाले एनडीए गठबंधन में सबसे ज्यादा मुखालफत करनेवाली शिवसेना संसद में शुक्रवार को मोदी सरकार के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के दौरान विपक्षी पार्टियों के खिलाफ वोट करेगी। यह दावा है केन्द्रीय मंत्री अनंत कुमार का। विश्वासमत के दौरान वोटिंग के बारे में शुक्रवार को शिवसेना के रूख के बारे में बुधवार को लगातार सवाल पूछने के बाद केन्द्रीय मंत्री ने कहा- एनडीए एकजुट है और और अविश्वास प्रस्ताव के खिलाफ वोट करेगी। हालांकि, केन्द्र सरकार आराम से विश्वासमत हासिल कर लेगी क्योंकि लोकसभा में उसे कोई खतरा नहीं है। लोकसभा के 535 सदस्यों में से सत्ताधारी एनडीए के पास संख्याबल 313 है जबकि बीजेपी के पास यह आंकड़ा 272 है, जो बहुमत साबित करने के लिए जरूरी आंकड़ें 268 से कहीं ज्यादा है। विपक्षी दलों को यह उम्मीद है कि शिवसेना के उद्धव ठाकरे जिनके पास लोकसभा के 18 सदस्य हैं, वह उनके साथ वोट करेंगे और इससे सरकार की किरकिरी होगी। हालांकि, शिवसेना ने इस बारे में अभी तक अपना कोई रूख साफ नहीं किया है। पिछले एक साल से भी ज्यादा समय से शिवसेना लगातार बीजेपी के खिलाफ बयानबाजी करते हुए उसे अपमानित करने का कोई मौका नहीं छोड़ रही है। शिवसेना ने बीजेपी का अपना सबसे बड़ा राजनीतिक दुश्मन तक करार दिया। इसके साथ ही, शिवसेना ने एनडीए की अगुवाई करनेवाली बीजेपी को अहंकारी तक बता दिया और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तारीफ की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here