तेजस्वी ने कही ये बड़ी बात, नीतीश सरकार के खिलाफ ला सकते हैं अविश्वास प्रस्ताव

0
110

तेजस्वी यादव ने कहा है कि बिहार में भी इस सत्र में नहीं तो अगले सत्र में नीतीश कुमार सरकार के खिलाफ हम अविश्वास प्रस्ताव लाएंगे। इस सरकार की विफलताओं को जनता के सामने लाना है।
पटना। बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने शुक्रवार को कहा कि उनकी पार्टी इस सत्र में नहीं, पर अगले सत्र में नीतीश कुमार सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने पर विचार कर सकती है। उन्होंने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव का मकसद सिर्फ सरकार गिराना नहीं बल्कि उसकी गलत नीतियों का पर्दाफाश करना भी होता है। उन्होंने बताया कि राजद इस सत्र में नहीं तो अगले सत्र में नीतीश कुमार सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने पर विचार करेगी और उनके नीतियों को जनता के सामने लाएगी। उन्होंने कहा कि एनडीेए के अंदर का विरोध भी सामने आया है।शिवसेना के वाकआउट से साबित हो गया कि सहयोगी भी इस सरकार से नाराज हैं। तेजस्वी ने ये बयान ऐसे समय में दिया, जब केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर लोकसभा में बहस हो रही है। उन्होंने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव में पूरा विपक्ष एक जुट है। उन्होंने कहा कि भले ही संख्या बल पर नरेंद्र मोदी की सरकार बच जाए, लेकिन जनता की नजरों में ये सरकार गिर चुकी है। बीजेपी की सरकार संविधान और गरीब विरोधी सरकार है। केंद्र और राज्य की सरकार को आम जनता से मतलब नहीं है। बिहार में आरएसएस को नीतीश कुमार ने लाया, ये संविधान और एससी-एसटी एक्ट को खत्म करने वालों के साथ हैं। बिहार सुखाड़ से त्रस्त है, सरकार के पास कोई योजना नहीं। मध्य प्रदेश से करार होने के बाद भी पानी नहीं मिल रहा है। बाढ़ राहत के लिए भी सरकार ने कोई तैयारी नहीं की। वहीं बिहार विधानमंडल के मानसून सत्र के पहले दिन आरजेडी ने कहा कि उनकी पार्टी विधानसभा और परिषद दोनों सदनों में नीतीश कुमार की कथित विफलता का मुद्दा उठाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here