शेयर बाजार: छोटी कंपनियों में निवेश का मौका

0
83

शेयर बाजार दिनोंदिन नए रिकॉर्ड बना रहा है और बड़ी कंपनियों का बेहतर प्रदर्शन इसकी वजह है। लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि छोटी और मझोले स्तर की कंपनियों में गिरावट से घबराने की जरूरत नहीं है। यह इन कंपनियों में निवेश का बेहतरीन मौका है। अभी इनके शेयर सस्ते में और कम जोखिम के साथ खरीदे जा सकते हैं। बाजार विश्लेषक राघवेंद्र नाथ का कहना है कि ज्यादातर कंपनियों के शेयर ऐसे हैं, जो अपने ऊंचे स्तर से 60-70 फीसदी गिर गए हैं। ऐसे में आम निवेशकों ने पहले से निवेश किया है तो धैर्य रखना चाहिए और नहीं किया है तो यह खरीदारी का सुनहरा मौका है। 100 रुपये का शेयर आज 50-60 रुपये है। जीएसटी, ई-वे बिल, बैंकिंग सुधार से स्थिति में बेहतरी के साथ अगले पांच सालों में आर्थिक विकास की तस्वीर बेहतर दिख रही है।
आगे भी तेजी रहने के आसार
मोतीलाल ओसवाल सिक्योरिटीज के सहायक उपाध्यक्ष चंदन तपारिया का कहना है कि मिडकैप इंडेक्स 12.6 % गिरा है। हालांकि अब मझोले कंपनियों के शेयर अपने निचले स्तर से उबरने लगे हैं। ऐसे में आगे इनमें तेजी रहने के पूरे आसार हैं। टीसीजी एसेट मैनेजमेंट के एमडी चक्री लोकप्रिया ने भी कहा कि कच्चे तेल और रुपये जैसे कारणों का पहले मिडकैप पर ज्यादा असर दिखा था, लेकिन अब समय खरीदारी का है, क्योंकि अब इनके प्रदर्शन बेहतर होने और मुनाफा कमाने के संकेत हैं।
सेंसेक्स का रिकॉर्ड
24 जुलाई 2018 : 36,825
23 जनवरी 2018 : 36047
17 जनवरी 2018 : 35082
26 दिसंबर 2017 : 34020
स्टॉक एक्सचेंज नई ऊंचाई छूने को बेताब
सेंसेक्स मंगलवार को कारोबार के दौरान सेंसेक्स 36,902.06 अंक के उच्चस्तर तक गया। इससे पहले उसका सबसे ऊंचा स्तर 36,749.69 अंक था। निफ्टी भी 49.55 अंक या 0.45 प्रतिशत के लाभ से 11,134.30 अंक के नए रिकॉर्ड पर बंद हुआ। इससे पहले 29 जनवरी को निफ्टी ने 11,130.40 अंक का रिकॉर्ड बनाया था।
बाजार में उत्साह इसलिए लौटा
विदेशी और घरेलू निवेशकों की जमकर खरीदारी
बीएसई के 19 में से 17 सेक्टरों में जोरदार तेजी
चीनी मुद्रा युआन समेत एशियाई करेंसी में मजबूती
कच्चे तेल में नरमी और रुपये में होता सुधार
विप्रो, एलएंडटी और टीसीएस का जोरदार प्रदर्शन
वैश्विक कंपनियों के बेहतर तिमाही नतीजे
बैंकिंग, कर्ज वसूली से जुड़े कई बिल संसद में पेश
ज्यादातर सेक्टर का प्रदर्शन सुधार
धातु, रियलिटी, पूंजीगत वस्तुओं और इंडस्ट्रियल्स समूह के शेयरों में दमदार प्रदर्शन दिखाया है। बैंकिंग और ऊर्जा कंपनियों में ही गिरावट रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here