करूणानिधि के बीमार होने का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाए कार्यकर्ता, 21 की मौत

0
67

द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) प्रमुख करुणानिधि के बीमार होने के बाद पार्टी के 21 कार्यकर्ताओं की मौत हो गई है। द्रमुक ने कहा है कि 21 पार्टी कार्यकर्ताओं की मृत्यु हो गई है जो पार्टी प्रमुख एम करूणानिधि के बीमार होने और अस्पताल में भर्ती होने का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाए। द्रमुक ने कार्यकर्ताओं से अपील की है कि पूर्व मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य के मद्देनजर वे कोई कठोर कदम नहीं उठाएं।
द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष एम के स्टालिन ने कहा कि मुझे यह जानकर बहुत दुख हुआ है कि पार्टी के 21 कार्यकर्ताओं की मृत्यु हो गई है जो पार्टी अध्यक्ष करूणानिधि की बीमारी और अस्पताल में भर्ती होने का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाए। स्टालिन ने कहा कि करूणानिधि चेन्नई के कावेरी अस्पताल में लगातार पांचवें दिन गहन देखभाल में हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें इन मौतों को लेकर बहुत दुख हुआ। उन्होंने पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना जताई। उन्होंने हालांकि मृतक कार्यकर्ताओं की पहचान का खुलासा नहीं किया। स्टालिन ने अस्पताल से एक बयान के हवाले से कहा कि पार्टी संरक्षक के स्वास्थ्य की स्थिति सामान्य हो रही है और डॉकटर्स का एक दल उनकी निगरानी कर रहा है। उन्होंने कहा कि यह अच्छी खबर है और यह हमें साहस दे रही है। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं द्वारा अपने नेता को वापस आने को लेकर की गई भावनात्मक अपील बेकार नहीं जाएगी। करूणानिधि के बेटे और द्रमुक में उनके उत्तराधिकारी स्टालिन ने कार्यकर्ताओं से कहा कि वह यह जानें कि वह एक भी पार्टी कार्यकर्ताओं के जीवन का नुकसान बर्दाश्त नहीं कर सकते। इस बीच तमिल अभिनेता विजय अस्पताल पहुंचे और करूणानिधि के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। अस्पताल के कार्यकारी निदेशक डॉ. अरविंदन सेलवाराज ने मगंलवार को एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करके कहा था कि उस स्थिति का समाधान हो गया है जिसके चलते करूणानिधि को अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन उनकी उम्र ज्याद होने के चलते उनके सामान्य स्वास्थ्य में समग्र रूप से हुई गिरावट के चलते उन्हें कुछ समय के लिए अस्पताल में रखना पड़ेगा। बता दें कि करूणानिधि को 28 जुलाई को ब्लड प्रेशर में गिरावट के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here