भारत ने फुटबॉल मैच में अर्जेंटीना को हराकर रचा इतिहास

0
440

भारत की इस ऐतिहासिक जीत के हीरो अनवर अली रहे जिन्होंने मैच के 68वें मिनट में एक फ्री किक को गोल में बदलकर मैच भारत के पाले में डाल दिया.

मैच के शुरुआती दौर से ही भारतीय टीम ने अपने पूरे दमख़म के साथ अर्जेंटीना के साथ टक्कर लेते हुए पहला गोल कर दिया.

भारतीय ख़िलाड़ी दीपक टांगरी ने अपने सिर का इस्तेमाल करके यानी एक शानदार हेडर खेलते हुए बॉल को अर्जेंटीना के गोल पोस्ट में डाल दिया.

अर्जेंटीना जैसी टीम के ख़िलाफ़ मैच के शुरुआत में ही गोल करना अपने आप में एक बड़ी बात है क्योंकि इस टीम में कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो कई नामी क्लबों में खेल चुके हैं.

भारत के गोल के बाद अर्जेंटीना की टीम ने दूसरे हाफ़ के दौरान, मैच में बराबरी करने की काफ़ी कोशिश की लेकिन भारतीय टीम ने अर्जेंटीना के आक्रमण को बेअसर कर दिया.

इसके बाद 68वें मिनट में भारत की ओर से अनवर अली ने एक फ्री किक को गोल में बदलकर भारत का स्कोर 2-0 कर दिया.

लेकिन बस चार मिनट बाद ही अर्जेंटीना ने भारत के ख़ाते में एक गोल डाल दिया.

इसके बाद लगभग 18 मिनट का खेल शेष था जिसमें अर्जेंटीना को अपना दमख़म दिखाना था जिसके लिए वह जानी जाती है.

लेकिन भारतीय खिलाड़ियों जैसे अनीष राय और जीतू ने आखिर तक मजबूत किलेबंदी को कायम रखा और भारत को 2-1 से जीत दिलाकर इतिहास रच दिया.

18 साल से जीतने वालों को तमिलनाडु की लड़कियों ने हरा दिया
भारत के लिए क्यों ख़ास है ये जीत

कॉटिफ़ कप 2018 में इससे पहले भारत मर्सिया अंडर 20 और मॉरिशियाना अंडर 20 के साथ हुए शुरुआती मैचों में हार का सामना कर चुकी है. लेकिन वे वेनेजुएला की अंडर 20 टीम के साथ ड्रॉ करने में सफलता हासिल की.

अर्जेंटीना की टीम के खिलाफ़ भारतीय टीम की ये जीत अहम है इसलिए भी है क्योंकि अंडर 20 वर्ल्डकप से पहले हो रहा ये टूर्नामेंट एक क्वालिफाईंग राउंड की तरह है.

ऐसे में अर्जेंटीना के ख़िलाफ़ जीत से भारतीय ख़िलाड़ियों को तकनीक समझने और मनोबल ऊंचा रखने में मदद जरूर मिलेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here