मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप कांड : नीतीश बोले – मंजू वर्मा से मैंने पूछा तो इनकार किया, दोषी नहीं बचेंगे

0
76

पटना : लोक संवाद कार्यक्रम में बाद मुजफ्फरपुर बालिका गृह दुष्कर्म कांड पर पत्रकारों से बात करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुजफ्फरपुर की घटना को शर्मनाक तो बताया. नीतीश ने कहा कि मामले की गंभीरता देखने के बाद ही हमने सीबीआई जांच की अनुशंसा की थी. उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा कि हर बिहारी मुजफ्फरपुर की घटना से खुद को शर्मसार महसूस कर रहा है. लेकिन, इसका मतलब यह नहीं इस मुद्दे पर राजनीति की जाये. नीतीश कुमार ने कहा है कि इस मामले में मेरी चुप्पी को गलत तरह से पेश किया गया, अगर किसी को पहले से इसकी जानकारी थी तो लोगों ने बताया क्यों नहीं? आज जो लोग शोर मचा रहे, आरोप लगा रहे वो पहले कहां थे? नीतीश कुमार ने यह कहा कि राज्य में अब सभी बालिका गृहों का संचालन सरकार ही करेगी.

नीतीश कुमार ने कहा कि लोग समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा पर, उनके पति पर आरोप लगा रहे हैं, मैंने उनसे पूछा तो उन्होंने इससे इनकार किया है. अब जांच चल रही है, जो दोषी होंगे वो जायेंगे. कोई नहीं बचेगा. मुख्यमंत्री ने विपक्ष को जवाब देते हुए कहा कि इस मामले में किसी को भी बख्शा नहीं जायेगा. लोगों ने भ्रम फैलाना शुरू किया और मुझे जैसे ही इस मामले की जानकारी मिली मैंने तुरंत सीबीआइ जांच की बात की. दोषियों पर कार्रवाई की जा रही है. हमने सदन में भी मामले पर वक्तव्य दिया. नीतीश कुमार ने कहा कि किसी के गाली देने से उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता. वह जानते की सरकार न्याय के साथ कैसे काम कर रही है.

ब्रजेश ठाकुर के साथ तस्वीर पर भी बोले
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के साथ अपनी और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और आरजेडी चीफ लालू यादव की तस्वीर पर भी बोले. उन्होंने कहा कि ‘वह (ब्रजेश) पत्रकार भी था. किसी भी व्यक्ति की तस्वीर किसी के साथ हो सकती है. इस पर बवाल किया जा रहा है. जितने लोग अब बोल रहे हैं कि उन्हें घटना की जानकारी थी तो पहले क्यों नहीं बताया.

मुख्यमंत्री ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर अपने खिलाफ हुए धरने पर भी तंज कसा. नीतीश कुमार ने कहा कि हाथ में कैंडल लेकर बैठने वाले लोगों की कैसी-कैसी तस्वीरें सामने आयी हैं यह बात कोई भूल नहीं सकता. उन्होंने कहा कि मुजफ्फरपुर की घटना अत्यंत शर्मनाक है, इसकी जितनी भी निंदा की जाये कम है. लोक संवाद में ही इस घटना की मुझे जानकारी मिली थी. अब हाईकोर्ट की मॉनिटरिंग में इसकी जांच होगी. सीएम ने कहा कि अब शेल्टर होम एनजीओ नहीं, सरकार चलायेगी. अब चरणबद्ध तरीके से काम होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here