करुणानिधि की तबीयत बिगड़ी, अगले 24 घंटे अहम, अस्पताल के बाहर समर्थक उमड़े

0
64

तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके प्रमुख एम करुणानिधि की तबीयत अभी भी गंभीर बनी हुई है. अस्पताल की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि अगले 24 घंटे उनके लिए अहम हैं. उन पर नजर रखी जाएगी.

उनकी तबीयत बिगड़ने की खबर आते ही समर्थकों का अस्पताल के बाहर जमावड़ा लगना शुरू हो गया है. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी भी करुणानिधि का हालचाल जानने चेन्नई में कावेरी अस्पताल पहुंचे और एमके स्टालिन तथा परिजनों से मुलाकात की.

कावेरी अस्पताल की ओर से जारी मेडिकल बुलेटिन में कहा गया है कि करुणानिधि की स्थिति अभी भी गंभीर है. करुणानिधि 29 जुलाई से इंटेंसिव केयर यूनिट (आईसीयू) में भर्ती हैं और उनका इलाज चल रहा है.

अस्पताल की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि करुणानिधि की उम्र के हिसाब से उनके शरीर के सभी ऑरगन्स को सही तरीके से फंक्शन कराने में खासी मशक्कत करनी पड़ रही है. उन पर लगातार नजर बनाए हुए हैं और एक्टिव मेडिकल सपोर्ट दिया जा रहा है. इलाज के दौरान उनका रिस्पान्स ही आगे का उपचार का रास्ता तय करेगा.

इससे पहले करुणानिधि से मिलने का सिलसिला जारी है और आज दोपहर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एस थिरुनावुककरसर भी मिलने गए थे. दक्षिण के कई शीर्ष नेता उनसे मिल चुके हैं.

5 बार मुख्यमंत्री रहे करुणानिधि से राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन के अलावा पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा मुलाकात कर चुके हैं.

इसी साल 3 जून को करुणानिधि ने अपना 94वां जन्मदिन मनाया. ठीक 50 साल पहले 26 जुलाई को ही उन्होंने डीएमके की कमान अपने हाथ में ली थी. लंबे समय तक करुणानिधि के नाम हर चुनाव में अपनी सीट न हारने का रिकॉर्ड भी रहा. वो पांच बार मुख्यमंत्री और 12 बार विधानसभा सदस्य रहे हैं. अभी तक वह जिस भी सीट पर चुनाव लड़े हैं, उन्होंने हमेशा जीत दर्ज की है.

करुणानिधि ने 1969 में पहली बार राज्य के सीएम का पद संभाला था, इसके बाद 2003 में आखिरी बार मुख्यमंत्री बने थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here