20 अगस्त तक बढ़ाई गई राजद सुप्रीमो लालू यादव की प्रोविजनल बेल

0
131

चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता राजद सुप्रीमो लालू यादव की प्रोविजनल बेल अवधि 20 अगस्त तक बढ़ा दी गई है, लेकिन कोर्ट ने कहा है कि इलाज के बाद वो घर पर नहीं रह सकते हैं।
पटना । चारा घोटाले मामले में सजायाफ्ता लालू यादव की प्रोविजनल बेल की अवधि बढ़ाई जाने पर आज रांची हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। लालू यादव की प्रोविजनल बेल 20 अगस्त तक कोर्ट ने बढ़ा दी है, लेकिन कोर्ट ने मौखिक रूप से कहा है कि लालू यादव सजायाफ्ता हैं और इलाज के बाद घर पर नहीं रह सकते। रांची हाईकोर्ट के जस्टिस अपरेश कुमार सिंह की कोर्ट में लालू यादव के प्रोविजनल बेल को बढ़ाए जाने के मामले में आज सुनवाई हुई । कोर्ट ने इस मामले में लालू यादव की मेडिकल रिपोर्ट पर सीबीआई को जांच कर जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया। इसके साथ ही लालू यादव की प्रोविजनल बेल 20 अगस्त तक बढ़ा दी । लालू यादव की प्रोविजनल बेल 14 अगस्त को समाप्त हो रही थी। इस मामले में सुनवाई 17 अगस्त को होगी।सुनवाई के दौरान लालू के अधिवक्ता ने बताया कि मुंबई स्थित एशियन हार्ट इंस्टिट्यूट में लालू यादव 6 अगस्त को ही भर्ती हो गए हैं। उनको यूरिनल, डायबिटीज सहित अन्य बीमारियां हैं । जिन का इलाज चल रहा है । उनका डायबिटीज कंट्रोल नहीं हो रहा है और उन्हें प्रतिदिन 70 इंसुलिन लेनी पड़ रही है। उन्होंने बताया कि लालू यादव को क्रोनिक किडनी की बीमारी है। जिसका इलाज चल रहा है। जिस पर कोर्ट ने मौखिक रूप से कहा कि लालू यादव सजायाफ्ता हैं और अस्पताल में इलाज कराने के बाद घर में नहीं रह सकते। साथ ही कोर्ट ने उनके द्वारा प्रोविजनल बेल की अवधि बढ़ाए जाने की मांग को ठुकराते हुए मात्र 20 अगस्त तक प्रोविजनल बेल की अवधि बढ़ाई और 17 अगस्त को मामले की सुनवाई निर्धारित की। सीबीआई ने कहा कि लालू की ओर से दाखिल डिस्चार्ज समरी में कहा गया है कि लालू प्रसाद फालोअप इलाज के लिए अस्पताल आ सकते हैं इसमें उन्हें एडमिट करने की कही बात नहीं कही गई लेकिन फिर भी लालू यादव छह गस्त को वहां भर्ती हो गए। जिस पर कोर्ट ने डिस्चार्ज समरी जांच कर सीबीआई को अपनी रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया है। बता दें कि राजद सुप्रीमो और चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव सोमवार की शाम को रूटीन चेकअप के लिए मुंबई गए हैं। मालूम हो कि लालू प्रसाद यादव का मुंबई के एशियन हॉस्पिटल में ऑपरेशन हुआ था और इसके बाद चिकित्सकों ने उन्हें रूटीन चेकअप के लिए मुंबई आने को कहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here