हिमाचल में भारी बारिश से 16 लोगों की मौत, अगले 48 घंटे में बिगड़ सकते हैं हालात

0
124

हिमाचल प्रदेश में बीते चौबीस घंटे से हो रही भारी बारिश से तबाही का मंजर देखने को मिला है. अब तक 16 लोगों की मौत हुई है. पूरा प्रदेश बेपटरी हो गया और जनजीवन अस्तव्यस्त है. भारी बारिश के चलते कई नेशनल हाईवे बंद हैं. आलम यह है कि सूबे के 11 जिलों में स्कूलों में छुट्टी का ऐलान कर दिया गया है. 12 में से 11 जिलों शिमला, मंडी, कुल्लू, चंबा, हमीरपुर, सोलन, बिलासपुर, किन्नौर और ऊना में बारिश के चलते स्कूल बंद हैं. सोलन में सात, मंडी में तीन, ऊना में तीन, हमीरपुर में दो और बिलासपुर में एक शख्स की मौत हुई है.

मौसम विभाग ने अगले 48 घंटे में भारी बारिश की चेतावनी जारी है. सोलन के बद्दी में जहां एक घर की दीवार गिरने से बच्चे समेत माता-पिता की मौत हो गई है. वहीं हमीरपुर में भोरंज में झारलोग पंचायत में ल्हासा गिरने से दादी-पोती की मौत हो गई.

शिमला: शिमला में भारी बारिश के चलते जगह-जगह लैंडस्लाइड हुआ है. यहां पर लोकल रूटों पर बसों की आवाजाही काफी कम है. बारिश को देखते हुए स्कूलों में सोमवार सुबह छुट्टी की घोषणा के बाद बड़ी संख्या में आधे रास्ते से बच्चों को घर लौटना पड़ा. जिला दंडाधिकारी शिमला अमित कश्यप ने बताया कि भारी बारिश के कारण जिला प्रशासन ने 12वीं तक सभी सरकारी व निजी स्कूलों को बंद रखने का फैसला किया है. शिमला के शिल्ली चौक पर बारिश से पेड़ गिर गया है. जगह-जगह सड़कों पर मलबा गिरा है. मल्याणा में लैंडस्लाइ़ड की वजह से तीन से सड़क बहाल नहीं हो पाई है.

सोलन: बारिश के चलते शिमला-चंडीगढ़ हाईवे बंद है.सोलन के चक्की मोड़ पर रात तीन बजे से राष्ट्रीय उच्च मार्ग-5 बंद हो गया है. यहां दोनों और कई किलोमीटर तक जाम लगा है. तेज़ बारिश के कारण प्रशासन को मलबा हटाने में दिक्कत आ रही है. सोलन में भी स्कूलों को बंद रखने के आदेश जारी किए गए हैं.

मंडी: मंडी जिले में भारी बारिश का कहर देखते हुए प्रशासन ने सभी स्कूलों में अवकाश घोषित किया है. डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर ने आदेश जारी किए हैं. वहीं, एनएच 20 और चंडीगढ़ मनाली हाईवे-21 पर भूस्खलन हुआ है. मंडी शहर के सैण मोहल्ले में मकान गिरने की खबर है. मंडी की बल्हघाटी में जलभराव हुआ है.अधिकतर सम्पर्क मार्ग बारिश के चलते बन्द हो गए हैं.

ऊना: ऊना में बारिश तबाही लेकर आई है. यहां चिंतपूर्णी माता के दर्शनों को आये श्रद्धालुओ से भरी इनोवा सड़क से लुढ़कने का समाचार है. भारी बारिश से सड़क टूटने के बाद यहां इनोवा गाड़ी हादसे का शिकार हो गई. घटना में ढाई साल की बच्ची की मौत हो गई है. गाड़ी से गिरी इस बच्ची के ऊपर मलबा गिरा और उसकी मौत हो गई. गाड़ी में सवार सभी श्रद्धालु सुरक्षित हैं. जो कि कपूरथला से चिंतपूर्णी माथा टेकने आये थे. सोमवार तड़के 3:30 बजे हादसा हुआ है.

हमीरपुर: हमीरपुर ज़िले भर में तेज बारिश बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त है. पूरे जिले की रफ्तार रुक गई है. केवल हमीरपुर से नादौन मार्ग ही खुला है. बाकी सारे मार्ग बंद होने के सूचना है. बताया जा रहा है कि शिमला-हमीरपुर मार्ग पर मोरसू पुल के साथ लैंडस्लाइड से आवाजाही बंद हो गई है.यहां भोरंज में झारलोग पंचायत में एक घर में ल्हासा गिर गया है. इससे घर में सो रही दादी लाजो देवी और पोती तनु की मौत हो गई है.

कुल्लू: हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में स्कूलों में छुट्टी का ऐलान किया गया है.यहां टूरिस्ट स्प़ॉट कसोल में बीती रात को बादल फटा है. इस दौरान तीन इजरायली सैलानियों को प्रशासन की ओर से आधी रात को रेस्क्यू किया गया है. आनी क्षेत्र में आनी-शमशर, शमशर- चवाई- दलाश, दलाश-सोईधार,आनी-जलोड़ी-कुल्लू एनएच-305 बंद है. आनी-शवाड, लुहरी-छाँवटी के बीच एनएच-305 बाधित हो गया.

सिरमौर: सिरमौर में भारी बारिश का सिलसिला लगातार जारी है. बारिश के कारण नाहन-शिमला हाईवे बंद हो गया है. साधना घाट के समीप भूस्खलन के कारण यह सड़क मार्ग बंद हुआ है दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लगी हैं. यहां हालांकि जानी नुकसान की कोई सूचना नहीं है.

इतनी बारिश हुई, 17 तक चलेगा सिलसिला
हिमाचल में बीते चीबीस घंटे में भारी बारिश हुई है. मौसम विभाग के अनसार, मंडी के नेहरी में 235 एमएम, कांगड़ा के ज्वाली में 136एमएम, ऊना के भरवा में 119 एमएम, सिरमौर के राजगढ़ में 62 एमएम, सोलन में 110 एमएम, कसौली में 134 एमएम शिमला में 172 एमएम और जुब्बड़हटी में 146 एमएम बारिश हुई है. उधर, चम्बा में 63एमएम और डलहौज़ी में 57एमएम बारिश रिकॉर्ड की गई है. प्रदेश सरकार ने लोगों से ऐहतियात बरतने को कहा. मौसम विभाग ने अगले तीन दिन तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. मौसम विभाग ने हालांकि, 17 अगस्त तक प्रदेश में बारिश का अनुमान जताया है.

यहां-यहां हुई मौतें
सोलन जिले में बद्दी में एक झुग्गी के ऊपर दीवार गिरने से बच्चे समेत माता-पिता की मौत हो गई है. उधर सोलन में ही एक मकान पर मलबा गिरने से एक ही परिवार के चार लोगों की मौत हुई है.कंडाघाट में

मंडी जिले के धर्मपुर क्षेत्र के तनेड़ इलाके में भूस्खलन के चलते एक महिला की मौत हुई है. वहीं, पंडोह और बल्ह में भी एक-एक मौत की सूचना है. ऊना में स्वां नदी में दो लोग बह गए हैं. ऊना में एक बच्ची की मौत खबर है. यहां एक गाड़ी सड़क टूटने के बाद हादसे का शिकार हो गई है. बिलासपुर में ग्राम पंचायत टाली के गांव दगडान (धौलाधार) में बरसात के कारण ठाकुर दास सुपुत्र बीरबल सिंह, 46 साल का मकान गिर गया. इसमें ठाकुर दास की मौत हो गई है. वहीं, पत्नी श्रुति देवी, 42 साल, उसका बेटा गौरव, 22, घायल है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here